प्रतीकात्मक तस्वीर.

प्रतीकात्मक तस्वीर.

चाइना मैन्ड स्पेस ने कहा तिआनझोउ-2 अंतरिक्षयान दक्षिण चीन सागर (South China Sea) में स्थित द्वीप हैनान से प्रक्षेपित किए जाने के आठ घंटे बाद तिआन्हे अंतरिक्ष केंद्र (Space Station) पर पहुंचा.

बीजिंग. चीन (China) की अंतरिक्ष एजेंसी ने घोषणा की है कि एक स्वचालित अंतरिक्षयान चीन के नये अंतरिक्ष केंद्र पर उतर गया है. यह यान भविष्य में केंद्र तक आने वाले अंतरिक्षयानों के चालक दल के सदस्यों के लिए ईंधन और आपूर्तियां लेकर पहुंचा है.’चाइना मैन्ड स्पेस ने कहा तिआनझोउ-2 अंतरिक्षयान दक्षिण चीन सागर (South China Sea) में स्थित द्वीप हैनान से प्रक्षेपित किए जाने के आठ घंटे बाद तिआन्हे अंतरिक्ष केंद्र पर पहुंचा. यह अंतरिक्ष पोशाकें, खाने-पीने की आपूर्तियां और केंद्र के लिए उपकरण एवं ईंधन लेकर पहुंचा.

चीन के लगातार महत्वाकांक्षी होते अंतरिक्ष कार्यक्रम के तहत तियान्हे या ‘हैवनली हार्मनी” देश द्वारा शुरू किया गया तीसरा और सबसे बड़ा कक्षीय केंद्र है. इस केंद्र का सबसे महत्त्वपूर्ण मॉड्यूल 29 अप्रैल को शुरू किया गयाथा. अंतरिक्ष एजेंसी अगले साल के अंत तक कुल 11 प्रक्षेपणों की योजना बना रही है जो इस 70 टन के केंद्र तक दो और मॉड्यूल, आपूर्तियां और तीन सदस्य चालक दलों को पहुंचाएंगे.

Youtube Video

ये भी पढ़ें: चीन ने कश्मीर मुद्दे पर ब्रिटेन को घेरा, भारत की परेशानी के लिए बताया जिम्मेदारतियान्हे का प्रक्षेपण करने वाले रॉकेट के हिस्से को अनियंत्रित होकर धरती पर गिरने देने के लिए हाल में चीन की आलोचना की गई. इस बात के कोई संकेत नहीं मिले हैं कि शनिवार को प्रक्षेपित किए गए रॉकेट के साथ क्या होगा. बीजिंग अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष केंद्र का हिस्सा नहीं है और इसकी बड़ी वजह अमेरिका की आपत्ति है. अमेरिका चीन के कार्यक्रमों की गोपनीयता और उसके सैन्य संपर्कों को लेकर सावधान रहता है.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here