प्रतापगढ़ शराब कांड में मरने वालों की संख्या बढ़कर 7 हो गई है.

प्रतापगढ़ शराब कांड में मरने वालों की संख्या बढ़कर 7 हो गई है.

Pratapgarh News: प्रतापगढ़ में शराब कांड में गुरुवार को एक और शख्स की मौत हो गई, जिसके बाद अब मरने वालों की संख्या 7 हो गई है. वहीं 3 की हालत गंभीर है. मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं तीन की तलाश जारी है.

प्रतापगढ़. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ (Pratapgarh) में शराब कांड का मुख्यारोपी प्रधानी चुनाव का दावेदार डब्बू सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने डब्बू समेत 5 लोगों को को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने उनके पास से डेढ़ पेटी अवैध शराब भी बरामद किया है. डब्बू सिंह के साथ बाबू लाल, अशोक, कपिल, धमंडी को पुलिस ने दबोचा है, जबकि प्रधान प्रत्याशी पवन सिंह और शेरे अभी भी फरार हैं, जिनकी तलाश पुलिस कर रही है.

पुलिस के मुताबिक डब्बू सिंह कटरिया और पवन सिंह आहड-बीहड़ गांव से प्रधान पद के भावी प्रत्याशी थे. मंगलवार को इनके द्वारा चुनावी जुलूस का आयोजन किया गया था, जिसमें डब्बू और पवन द्वारा मिलावटी शराब अपने समर्थकों को बांटी गई थी. इनकी बांटी गई जहरीली शराब पीने से ही सात व्यक्तियों की मौत हो गई, जबकि तीन व्यक्तियों की हालत गंभीर बनी हुई है.

पुलिस के अनुसार पवन सिंह के भट्टे और राइस मिल में अवैध शराब लाकर डंप किया जाता था. वहीं से इलाके में अवैध शराब के कारोबार को संचालित किया जाता था. सभी पकडे गए आरोपियों को पुलिस ने जेल भेज दिया है.

प्रतापगढ़ में शराब का कहर, अब तक सात की मौतप्रतापगढ़ के कटरिया गाव में अब तक जहरीली शराब का सेवन करने से सात व्यक्ति की मौत हो गयी है. जबकि 3 युवक की हालत गंभीर बनी हुई है. गाव में मातम और खौफ दोनों ग्रामीणों पर साफ तौर पर दिखाई पड़ रहा है. आज सुबह भी एक व्यक्ति की मौत से हडकंप मचा हुआ है.

आबकारी इस्पेक्टर, एसओ समेत 4 पर गाज

मंगलवार की शाम से शुरू हुआ जहरीली शराब का तांडव गुरूवार तक जारी है. 7 लोगों की जान मिलावटी शराब निगल चुकी है. वहीं आबकारी इस्पेक्टर लालगंज प्रभु नारायण, उदयपुर एसओ राकेश प्रजापति, बीट दरोगा, सिपाही, लेखपाल, आबकारी का एक सिपाही को निलंबित कर दिया गया है. जहरीली शराब प्रकरण में अब तक 6 लोगों पर कार्रवाई की जा चुकी है.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here