[ad_1]

 अमेरिका ने दान की वैक्सीन ( फाइल फोटो)

अमेरिका ने दान की वैक्सीन ( फाइल फोटो)

चीन की सरकारी मीडिया सिन्हुआ, ग्लोबल टाइम्स, चाइना डेली ने भी अमेरिकी मदद पर टिप्पणी की. शिन्हुआ ने लिखा- इसको ‘काम कम करना और बताना ज्यादा’ कहते हैं.

वॉशिंगटन. अमेरिका (America) ने हाल ही में एक देश को कूटनीति के तौर पर एक कैरेबियाई देश को कोविड रोधी वैक्सीन (Anti Covid-19 Vaccine) की 80 शीशियां दान दी है. अमेरिका ने सिर्फ दान ही नहीं दिया बल्कि इस से जुड़ी पोस्ट्स भी सोशल मीडिया पर आधिकारिक तौर पर ट्वीट की गई. अब लोग इसका मजाक उड़ा रहे हैं. दरअसल, चीन और अमेरिका- वैक्सीन डिप्लोमेसी के जरिए दुनिया के अलग-अलग हिस्सों में अपनी इमेज बनाने मे लगे हुए हैं. एक ओर जहां चीन खुद पर कोरोना को लेकर इल्जाम के दाग धोना है तो वहीं अमेरिका गरीब देशों पर अपना प्रभाव बनाने के लिए इस कूटनीति का सहारा ले रहा है.

इन सबके बीच चीन ने अमेरिका के दान का काफी मजाक उड़ाया. दरअसल अमेरिका ने कैरेबियाई राष्ट्र त्रिनिदाद और टोबैगो को कोरोना रोधी टीके की सिर्फ 80 शीशियां भेजीं. इतनी कम मात्रा पर चीन और उसके सरकारी मीडिया एजेंसियों ने जमकर मजाक उड़ाया. चीन के सरकारी मीडिया से जुड़े चेन वेहुआ ने कहा कि यह उतना ही है जितना एक नर्सिंग होम को दान में मिलता है.

चीन की सरकारी मीडिया सिन्हुआ, ग्लोबल टाइम्स, चाइना डेली ने भी अमेरिकी मदद पर टिप्पणी की. शिन्हुआ ने लिखा- इसको ‘काम कम करना और बताना ज्यादा’ कहते हैं.

अमेरिका ने बनाई है दान की योजना

बता दें हाल हील में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने देश में कोविड-19 टीके की अतिरिक्त 75 प्रतिशत खुराकें संयुक्त राष्ट्र के सहयोग वाली ‘कोवैक्स’ पहल को आवंटित करने की योजना घोषणा की. इसके तहत अतिरिक्त 2.5 करोड़ खुराकों में पहली किस्त के तौर पर करीब 1.9 करोड़ खुराकें दक्षिण और दक्षिण पूर्व एशिया के साथ अफ्रीका के लिए आवंटित की जाएंगी.

बाइडन ने कहा था, ‘कम से कम 75 प्रतिशत खुराकें- करीब 1.9 करोड़ खुराकें ‘कोवैक्स’ पहल के जरिए साझा की जाएंगी. इसमें लातिन अमेरिका और कैरेबियाई क्षेत्र को साठ लाख, दक्षिण और दक्षिण-पूर्व एशिया को 70 लाख और करीब पचास लाख खुराकें अफ्रीका को दी जाएंगी.’ बाइडन ने कहा, ‘बाकी साठ लाख खुराकें सीधे उन देशों को दी जाएंगी जहां पर संक्रमण के मामले बढ़े हैं, जो संकट में हैं. इसमें अमेरिका अपने भागीदार और कनाडा, मैक्सिको समेत पड़ोसियों, भारत और कोरिया गणराज्य को टीके देगा.’







[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here