चीन की जनसंख्‍या को लेकर आया दावा. (Pic- AP)

चीन की जनसंख्‍या को लेकर आया दावा. (Pic- AP)

बीजिंग, 18 अप्रैल (भाषा) दुनिया की सबसे बड़ी आबादी वाले देश चीन में जनंसख्ंया की स्थिति में बड़ा बदलाव आ सकता है। वर्ष 2025 के बाद यहां जनसंख्या में गिरावट आनी शुरू हो जाएगी।

बीजिंग. दुनिया की सबसे बड़ी आबादी वाले देश चीन में जनसख्ंया की स्थिति में बड़ा बदलाव आ सकता है. वर्ष 2025 के बाद यहां जनसंख्या में गिरावट आनी शुरू हो जाएगी. चीन के एक अर्थशास्त्री ने यह अनुमान लगाते हुए कहा है कि आबादी घटने से उपभोक्ता मांग कम होगी.

चीन के केंद्रीय बैंक पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना की मौद्रिक नीति समिति के सदस्य चाई फांग ने कहा कि चीन की आबादी अगले चार साल में चरम पर पहुंच जाएगी और उसके बाद इसमें गिरावट आएगी. इससे उपभोक्ता मांग में उल्लेखनीय कमी आएगी.

चाई के हवाले से अंग्रेजी अखबार साऊथ चाइना मार्निंग पोस्ट ने रविवार को लिखा है, ‘‘2025 के बाद जब कुल आबादी में में गिरावट शुरू होगी, मांग में कमी आएगी.’’

उन्होंने कहा कि जनसंख्या की स्थिति में बदलाव के कारण भविष्य में उपभोग मांग में कमी पर ध्यान देने की जरूरत है. चीन इसी महीने जनगणना की ताजी रिपार्ट जारी करने वाला है. इस लिहाज से चाई की ये बातें महत्वपूर्ण हैं.कुछ दिन पहले जारी केंद्रीय बैंक के अध्ययन के अनुसार चीन को अपनी जनसंख्या नीति को उदार बनाना चाहिए. ऐसा नहीं करने पर उसे ऐसी स्थिति का सामना करना पड़ सकता है जहां 2050 तक कामगारों की हिस्सेदारी कम होगी और बुजुर्गो के देखभाल पर खर्च अमेरिका से भी ज्यादा होगा.

चीने ने 2016 से दम्पत्तियों को दो बच्चे जनने की छूट दे दी है. इससे पहले कम्यूनिस्ट सरकार ने तीन दशक तक एक संतान की नीति लागू कर रखी थी.

(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here