द्योगपति ने बैंक को लगाया 23 करोड़ रुपये का चूना

द्योगपति ने बैंक को लगाया 23 करोड़ रुपये का चूना

बताया जा रहा है कि यह रकम (Amount) दूसरी कंपनियों में ट्रांसफर कर दी. माल तैयार होने के बाद उसकी सप्लाई दिखाने के लिए फर्जी गाड़ियों के बिलों (Bill) को भी लगाया गया.

कानपुर. बैंकों से फ्रॉड करने वालों के खिलाफ सीबीआई ने शिकंजा कस दिया है. पालीमार से जुड़े कानपुर (Kanpur) के उद्योगपति पर सीबीआई (CBI) ने करीब 23 करोड़ की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है. यह रिपोर्ट बैंक ऑफ बड़ौदा की बिरहाना रोड शाखा ने दर्ज कराया है. मामला सामने आने के बाद दिल्ली से कानपुर पहुंची सीबीआई की टीम जांच पड़ताल में जुटी है.

दरअसल कानपुर में कई उद्योगपति हाल ही में सामने आए हैं. जो लगातार बैंकों से फ्रॉड कर रहे हैं. इसी कड़ी में एक और उद्योगपति का नाम जुड़ गया है, जिन्होंने 23 को रुपए की धोखाधड़ी की है. बैंक ऑफ बड़ौदा के सहायक महाप्रबंधक पीके साहू ने सीबीआई में शिकायत की और बिना रोड स्थित विनय पालीमर और उसके 5 दिन निदेशकों ने बैंक से लोन लिया. और अपराधिक षड्यंत्र रचकर बैंक के साथ फ्रॉड किया. लोन के नाम पर ली गई 22.65 करोड़ रुपए की धनराशि को फर्जी बिलों के जरिए खर्च में दिखा दिया.

UP News: होली से पहले शराब माफियाओं पर सीएम योगी का सख्त एक्शन, गैंगस्टर के बाद अब संपत्ति भी होगी जब्त

बताया जा रहा है कि यह रकम दूसरी कंपनियों में ट्रांसफर कर दी. माल तैयार होने के बाद उसकी सप्लाई दिखाने के लिए फर्जी गाड़ियों के बिलों को भी लगाया गया. इस वजह से बैंक के 22.65 करोड़ रुपए डूब गए. प्राथमिक जांच में प्लॉट के आरोप सही पाए गए और सीबीआई ने एफआईआर दर्ज कर दी है. अब जल्दी कंपनी के बृजेश कनोडिया एमडी गायत्री देवी कनोडिया, अभिनय कनोडिया, चंद्र नारायण मालवीय और गारंटर सिमोन प्लास्ट समेत अन्य एमडी व सीईओ पर मुकदमा दर्ज किया है. आज पूछताछ के लिए सीबीआई टीम कानपुर पहुंची है. सूत्रों की माने तो इसमें बैंक के कर्मचारियों की भी मिलीभगत सामने आ रही है जिन से भी सीबीआई पूछताछ करेगी.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here