[ad_1]

बीजिंग. चीन की सरकार ने बृहस्पतिवार को वायरस अभियान के लिए ट्विटर और फेसबुक का उपयोग किए जाने को लेकर अपना बचाव किया. एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चीन ने कोविड-19 महामारी के फैलने के स्थान के बारे में दुष्प्रचार फैलाने के लिए सोशल मीडिया मंचों का सहारा लिया.

इस रिपोर्ट के बारे में पूछे जाने पर विदेश मंत्रालय की मुख्य प्रवक्ता हुआ चिनयिंग ने चीन द्वारा दुष्प्रचार फैलाने के आरोपों के संबंध में सीधे तौर पर कोई जवाब नहीं दिया. हालांकि, उन्होंने इस रिपोर्ट को तूल देने का आरोप लगाया और कहा कि चीन को सोशल मीडिया का भी उपयोग करने का अधिकार होना चाहिए.

एसोसिएटेड प्रेस द्वारा की गई पड़ताल में सामने आया था कि शक्तिशाली राजनीतिक हस्तियों और चीन, अमेरिका, रूस और ईरान में संबद्ध मीडिया ने पूरी दुनिया में वायरस को लेकर कथित दुष्प्रचार किया.

प्रेसवार्ता के दौरान चिनयिंग ने इस रिपोर्ट के बारे में पूछे जाने पर कहा कि पश्चिमी देशों के कुछ लोग जैसे कि अमेरिका, चीन का पक्ष और उसकी आवाज को सुनना नहीं चाहते हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि ऐसे लोग डरे हुए हैं कि अगर सच लोगों के सामने आ गया तो वे और अधिक दुष्प्रचार नहीं कर सकेंगे तथा अतंरराष्ट्रीय स्तर पर लोगों की सोच को प्रभावित नहीं कर पाएंगे.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here