[ad_1]

बूचार्ड 2014 में विंबलडन के फाइनल में पहुंची थी (फाइल फोटो)

बूचार्ड 2014 में विंबलडन के फाइनल में पहुंची थी (फाइल फोटो)

इस खिलाड़ी के साथ डिनर डेट पर जाने के लिए बोली शुरू भी हो चुकी है. बोली से मिले पैसों से ये खिलाड़ी कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से सब कुछ ठप्‍प होने के कारण भूख से जूझ रहे लोगों की मदद करेगी

नई दिल्‍ली. इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस (Coronavirus) से जूझ रही है. हर कोई इस समस्‍या से निपटने के लिए एकजुट है. इस मुश्किल समय में मदद के हाथ बढ़ाये जा रहे हैं. हर संभव कोशिश की जा रही है. खेल जगत भी मदद के लिए आगे आया है. किसी ने बड़ा दान दिया तो कोई अपनी यादगार चीज को नीलाम करके पैसे जोड़ रहा है. इसी कड़ी में कनाडा की टेनिस खिलाड़ी यूजनी बूचार्ड ने मदद के लिए फंड इकट्ठा करने के लिए अलग तरीका निकाला है.

बूचार्ड ने सोशल मीडिया पर ऐलान किया किया कि व‍ह चैरिटी के लिए बोली लगाएंगी और जो भी सबसे ज्‍यादा बोली लगाएगा, उसके साथ वो डिनर डेट पर जाएगी. 26 साल की बूचार्ड अभी दुनिया की 332वीं रैंकिंग की खिलाड़ी हैं. मगर उन्‍होंने उस समय पूरी दुनिया को हिला दिया था, जब 2014 में विंबलडन के फाइनल तक पहुंच गई. वह उसी साल ऑस्‍ट्रेलिया ओपन और फ्रेंच ओपन के भी सेमीफाइनल में पहुंची थीं. बूचार्ड ने इंस्‍टाग्राम पर वीडियो शेयर करके कहा ह‍ि वह इस फंड से अमेरिका मे भूख से जूझ रहे लोगों की मदद करेगी.

2 लाख रुपये से शुरू हुई बोली
दरअसल बूचार्ड ऑल इन चैलेंज से जुड़ी है. बोली दो लाख रुपये से शुरू हुई, जो अभी तक 16 लाख तक पहुंच गई है. ऑल चैलेंज वेबसाइट के अनुसार बोली जीतने वाले यूएस ओपन से विंबलडन तक कोई भी टेनिस मैच देख सकते हैं और वो भी एक दोस्‍त के साथ. इसके बाद कनाडाई खिलाड़ी के साथ पोस्‍ट मैच डिनर करने का मौका मिलेगा. इसके अलावा विजेता को आने जाने के लिए फ्लाइट का खर्चा भी नहीं उठाना होगा. वहीं बूचार्ड के साइन किए हुआ रैकेट और स्‍नीकर्स भी दिए जाएंगे.

जब एक साथ खेलने वाले आए एक दूसरे के खिलाफ, तो शुरू हुई हॉकी की सबसे बड़ी ‘जंग’

एक हार से बहुत टूट गए थे जोकोविच, 10 साल पहले ही लेना चाहते थे संन्यास



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here