विंबलडन. विश्व टेनिस की सर्वोच्च संस्थाओं डब्ल्यूटीए (महिला) और एटीपी (पुरुष) दोनों ने कोविड-19 से जुड़ी चिंताओं के कारण इस साल चीन और जापान में होने वाले अपने टूर्नामेंटों को रद्द कर दिया है. महिला टूर ने हालांकि कहा है कि चीन में होने वाले डब्ल्यूटीए फाइनल्स के आयोजन पर अब भी चर्चा चल रही है. उसने कहा कि कोविड-19 से जुड़ी चिंताओं और यात्रा प्रतिबंधों के कारण उसने एशिया में अन्य प्रतियोगिताओं का आयोजन नहीं करने का निर्णय किया. एटीपी ने कहा कि बीजिंग में होने वाले चीन ओपन और टोक्यो में होने वाले जापान ओपन के आयोजकों ने पुष्टि की है कि कोविड-19 से जुड़े प्रतिबंधों के कारण इन्हें इस साल रद्द करने का फैसला किया गया है.

पुरुष टूर ने कहा कि अप्रैल में स्थगित किये गये मोरक्को ओपन का भी इस साल आयोजन नहीं किया जाएगा. वहीं, कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित रहा इंडियन वेल्स बीएनपी परिबास ओपन टेनिस टूर्नामेंट इस साल चार से 17 अक्टूबर के बीच दक्षिण कैलिफोर्निया में आयोजित किया जाएगा.

आयोजकों ने बताया कि इस टूर्नामेंट की पुरस्कार राशि 153 लाख डॉलर होगी. पुरुष ड्रॉ में एकल में 56 खिलाड़ी और युगल में 28 जोड़ियां हिस्सा लेंगी. महिला ड्रा के एकल में 96 खिलाड़ी और युगल में 32 जोड़ियां शामिल हैं. प्रशंसकों को इंडियन वेलस टेनिस गार्डन में प्रवेश करने के लिए पूर्ण टीकाकरण का सबूत देना होगा. खिलाड़ियों को पुरुष और महिला टेनिस की सर्वोच्च संस्थाओं क्रमश: एटीपी और डब्ल्यूटीए के दिशानिर्देशेां का पालन करना होगा.

इससे पहले इस प्रतियोगिता का आयोजन मार्च 2019 में किया गया था. तब डोमिनिक थीम ने पुरुष और बियांका आंद्रेस्कू ने महिला वर्ग का खिताब जीता था. आयोजकों के अनुसार दो सप्ताह तक चलने वाला यह टूर्नामेंट अगले साल अपने निर्धारित समय मार्च 2022 में ही खेला जाएगा.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here