[ad_1]

वेस्ट यूपी गन्ने और गुड़ की मिठास के लिए देश विदेश में जाना जाता है, लेकिन कोरोनाकाल में मेरठ (Meerut) गन्ने और गुड़ के साथ अब गजक के मामले में अपनी नई पहचान बनाता जा रहा है. ऐसा माना जा रहा था कि कोरोनाकाल में गजक की डिमांड में भी कमी आएगी. लेकिन हुआ इसका ठीक उल्टा. गजक की डिमांड कोरोनाकाल में और ज्यादा बढ़ गई है. आलम ये है कि अब लोग सर्दियों की दवा कहे जाने वाली गजक विदेश में रह रहे अपने रिश्तेदारों तक को भेज रहे हैं. लोगों का कहना है कि यहां की गजक में वे सारी चीजें मौजूद हैं जो हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती हैं. इसलिए वे तो इसका सेवन कर ही रहे हैं, अपने प्रियजनों को भी वे इसे गिफ्ट के तौर पर भेज रहे हैं.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here