गनपत सहाय पीजी कालेज में मनाया गया संविधान दिवस

(सुल्तानपुर)सीताकुंड स्थित गनपत सहाय पीजी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई के तत्ववाधान में भारतीय संविधान दिवस मनाया गया । कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ हुआ । विषय का प्रवर्तन करते हुए डॉक्टर नीलम तिवारी ने कहा कि किसी राज्य शासन व्यवस्था के सफल संचालन के लिए संविधान का होना आवश्यक माना जाता है ।भारत के संविधान का लक्ष्य भारत को एक स्वतंत्र संप्रभु गणराज्य के रूप में स्थापित करने का था जिसमें सभी नागरिकों को सामाजिक आर्थिक राजनीतिक न्याय विचार अभिव्यक्ति विश्वास धर्म और व्यवसाय आदि के स्वतंत्रता के प्रत्याभूत प्रदान किया जाएगा ।सभा को संबोधित करते हुए डॉ प्रभाकर मिश्र ने कहा कि भारतीय संविधान भारत के जीवंत आत्मा है। हमारा आचार विचार संस्कृत जीवन दर्शन सब का समाहार हमारे संविधान में है ।बच्चों को प्रेरित करते हुए उन्होंने कहा कि कर्तव्य के हिमालय से ही अधिकार की गंगा निकलती है ।मनीषा ने गीत के माध्यम से लोगों को प्रेरित किया । जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल एडवोकेट सुभाष तिवारी ने बताया कि गरीबों और वंचितों को न्याय दिलाने के लिए ही इस प्राधिकरण बोर्ड का गठन हुआ है ।मुख्य वक्ता विधिक प्राधिकरण सेवा बोर्ड के पैनल एडवोकेट अमित कुमार पांडे ने कहा कि हमारा संविधान हमारी गीता ,रामायण ,कुरान और बाइबिल है ।उन्होंने कहा कि विधिक प्राधिकरण के सारी समस्याओं विधिक प्राधिकरण ही सारी समस्याओं का समाधान है पैरालीगल वलेंटियर योगेश यादव , कृष्ण कुमार उपाध्याय सहित राष्ट्रीय सेवा योजना के सभी कार्यक्रम अधिकारी डॉ नीलम तिवारी ,डॉ गीता त्रिपाठी, डॉ एस पी मिश्रा, दिनेश चंद्र द्विवेदी, डॉ अजय कुमार पांडे उपस्थित रहे। इस अवसर पर अनेक छात्राएं आदर्श अंजली ,दिव्या ,रिश्ता ,पलक, अमरनाथ ,प्रवेश ,आदिल ,शिवम, आदि उपस्थित रहे ।धन्यवाद ज्ञापन डॉ गीता त्रिपाठी ने किया सभा का समापन लक्ष्य जीत और राष्ट्रगान के साथ हुआ

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here