बीजिंग. चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (China President Xi Jinping) ने सोमवार को पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के वेस्टर्न थिएटर कमांड (डब्ल्यूटीसी) ग्राउंड फोर्स के कमांडर सहित चार वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों को जनरल के पद पर पदोन्नत किया है. ये चार अधिकारी बीते साल गलवान घाटी (Galwan Valley) में हुए हिंसक झड़प में शामिल थे. पीएलए की यह कमांड विवादित भारत-चीन सीमा की निगरानी करती है. यह चीन की सबसे बड़ी थिएटर कमांड है.

आधिकारिक समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने देर रात की रिपोर्ट में कहा कि पीएलए के डब्ल्यूटीसी के कमांडर जू किलिंग जनरल के रूप में पदोन्नत होने वाले चार में शामिल थे. वह डब्ल्यूटीसी के समग्र प्रमुख जनरल झांग ज़ुडोंग को रिपोर्ट करते हैं.

US आर्मी की वापसी के बाद अफगानिस्‍तान में कब्जे के लिए चीन ने बनाया फुलप्रूफ प्लान

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट में कहा गया है, “केंद्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) के अध्यक्ष शी जिनपिंग ने चार वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों को जनरल के पद पर पदोन्नत किया है, जो चीन में सक्रिय सेवा में अधिकारियों के लिए सर्वोच्च रैंक है.” शी ने सोमवार को बीजिंग में सीएमसी द्वारा आयोजित एक समारोह में उन आदेशों के प्रमाण पत्र पेश किए, जिन पर उन्होंने हस्ताक्षर किए थे.

चीन ने फिर चली चाल, लद्दाख सीमा पर तैनात किए 50 हजार सैनिक, एक्शन में भारत

जू के अलावा, पदोन्नत किए गए अन्य अधिकारियों में पीएलए के दक्षिणी थिएटर कमांड के कमांडर, वांग शिउबिन, पीएलए सेना के कमांडर लियू जेनली और पीएलए सामरिक सहायता बल के कमांडर जू कियानशेंग थे. रिपोर्ट में कहा गया है, “सीएमसी के उपाध्यक्ष जू किलियांग ने समारोह में पदोन्नति के आदेशों की घोषणा की, जिसकी अध्यक्षता सीएमसी के उपाध्यक्ष झांग यूक्सिया ने की.” (एजेंसी इनपुट)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here