नई दिल्ली: एक्टर आदिल हुसैन (Adil Hussain) हाल ही में मस्जिदों की तुलना गुरुद्वारों से करके बुरी तरह फंस गए. क्योंकि उनके इस ट्वीट पर कॉमेंट बॉक्स में ढेरों फैंस आपस में भिड़ गए. कुछ ने जहां मंदिरों द्वारा ये काम पहले ही किए जाने की दलील दी तो वहीं तमाम ने कहा कि मस्जिदें ये काम गुरुद्वारों से पहले ही शुरू कर चुकी हैं. हालांकि कुछ लोग आदिल (Adil Hussain) की बात का सपोर्ट करके भी दिखे.

आदिल हुसैन ने लिखी ये बात
दरअसल आदिल हुसैन (Adil Hussain) ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘सभी मस्जिदों को कोविड हेल्थकेयर फैसिलिटी में तब्दील किया जा सकता है जहां कम्युनिटी द्वारा ऑक्सीजन व अन्य इक्विपमेंट उपलब्ध कराए जाएं, जैसा तमाम जगहों पर गुरुद्वारों ने किया है. मैं सिख समुदाय का बहुत शुक्रगुजार हूं ये दिखाने के लिए कि मानवता की सेवा किस तरह की जाती है. वह हमेशा ऐसा करते रहे हैं.’

आपस में भिड़े सोशल मीडिया यूजर
आदिल (Adil Hussain) के ये ट्वीट करते ही कॉमेंट बॉक्स में तमाम सोशल मीडिया यूजर्स आपस में भिड़ गए. जहां ज्वाला गट्टा और मनीषा कोयराला ने उनके प्रति समर्थन दिखाया वहीं दूसरी तरफ एक यूजर ने लिखा, ‘आपकी जानकारी के लिए बता दूं कि तमाम मंदिर पहले ही अस्थाई अस्पतालों में बदले जा चुके हैं.’ एक अन्य यूजर ने लिखा, ‘भारत की तमाम मस्जिदें कोविड के मरीजों के लिए अपने दरवाजे खोल चुकी हैं.’

एक यूजर ने लिखी ये बात
जहां तमाम लोग कमेंट बॉक्स में मस्जिदों को कोविड अस्पतालों में तब्दील किए जाने की अलग-अलग खबरों के लिंक और तस्वीरें भेजने लगे वहीं एक यूजर ने लिखा, ‘हर समुदाय ये काम कर रहा है. आपको स्वामीनारायण टेंपल ट्रस्ट देखने की जरूरत है जहां तमाम मंदिर ये काम कर रहे हैं. इसलिए हमें किसी एक समुदाय की तारीफ करना बंद करके सभी की मदद की कोशिश करनी चाहिए.’

ये भी पढ़ें

Milind Soman का प्लाज्मा लेने से डॉक्टर्स ने किया इंकार, मायूस होकर लौटे घर

एंटरटेनमेंट की लेटेस्ट और इंटरेस्टिंग खबरों के लिए यहां क्लिक कर Zee News के Entertainment Facebook Page को लाइक करें





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here