सुल्तानपुर। जिले में समाज कल्याण विभाग के संयोजन में बाराबंकी जिले के फेयरडील ग्रामोद्योग सेवा समिति द्वारा संचालित तुरबखानी स्थित “आनन्द भवन”वृद्धाश्रम की रियलिटी चेक के दौरान उपस्थिति पंजिका में 72 वृद्धों की उपस्थिति दर्ज दिखी, जबकि मौके पर बमुश्किल 25-30 की संख्या में वृद्ध नजर आए। आधे से ज्यादा की उपस्थिति पंजिका में फर्जी दर्शायी गई।विभागीय मिली भगत से वृद्धा आश्रम के नाम पर सरकार के पैसे की चल रही लूट।कमरों की संख्या पर्याप्त न होने की वजह से अधिकांश वृद्धों को एक ही हाल में उठने-बैठने की व्यवस्था आश्रम द्वारा की गई है।इसके आलावा लैट्रिन-बाथरूमों की संख्या 2-4 होने की वजह से इन वृद्धों को सुबह-शाम रोजाना खासी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ता है। सफाई व्यवस्था न होने की वजह से दुर्गंधपूर्ण वातावरण में रहने को मजबूर इन वृद्धों से बातचीत करने पर इन्होने आश्रम पर टोंट करते हुए बताया कि सफाई न होने की वजह से कन्नौज का माहौल रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here