[ad_1]

टीम इंडिया मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि देने के लिए काली पट्टी बांधकर विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेलेगी. (Team India Instagram)

टीम इंडिया मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि देने के लिए काली पट्टी बांधकर विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल खेलेगी. (Team India Instagram)

WTC Final, IND VS NZ: भारतीय क्रिकेट टीम ने भी देश के दिग्गज एथलीट मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि दी. सभी खिलाड़ी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल काली पट्टी बांधकर खेल रहे. बीसीसीआई ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी.

नई दिल्ली. टीम इंडिया ने भी दिग्गज एथलीट मिल्खा सिंह को खास तरह से श्रद्धांजलि दी. सभी खिलाड़ी न्यूजीलैंड के खिलाफ विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का फाइनल काली पट्टी बांधकर खेल रहे हैं. बीसीसीआई ने भी ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. मिल्खा सिंह का शुक्रवार देर रात 91 साल की उम्र में कोरोना के कारण चंडीगढ़ के पीजीआई अस्पताल में निधन हो गया था. उनके निधन से पूरा देश दुखी है. प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति के अलावा देश के कई दिग्गज खिलाड़ी ने भी फ्लाइंग सिख को याद किया.

इससे पहले दिन में भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भी ट्वीट कर मिल्खा सिंह को श्रद्धांजलि दी थी. उन्होंने लिखा था कि एक विरासत जिसने पूरे देश को शानदार काम करने के लिए हमेशा प्रेरित किया. आपका कभी हार न मानने का जज्बा और सपने को साकार करने के पीछे जुटे रहना, हमेशा याद आएगा. बता दें कि मिल्खा सिंह पिछले महीने कोरोना संक्रमित हो गए थे. इसके बावजूद उनका हौसला नहीं टूटा था और उन्होंने न्यूज एजेंसी से हुई बातचीत में अपने जल्द ठीक होने की उम्मीद जताई थी. हालांकि, ऐसा नहीं हो पाया.

मिल्खा सिंह की पत्नी का 5 दिन पहले निधन हुआ थापिछले महीने 20 मई को उनकी कोरोना वायरस टेस्ट रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी. उनका चंडीगढ़ के PGIMER में इलाज चल रहा था. मिल्खा की पत्नी 85 वर्षीय निर्मल कौर के निधन के पांच दिन बाद ही उन्होंने अंतिम सांस ली. परिवार के एक रसोइये की कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट पॉजीटिव आई थी. इसके बाद उन्हें 24 मई को मोहाली के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

मिल्‍खा सिंह की जीत से ज्‍यादा हार की होती है चर्चा, ‘एक आदत’ ने तोड़ दिया था सपना

पीएम मोदी ने भी मिल्खा सिंह के निधन पर दुख जताया

पूर्व भारतीय एथलीट की हाल में कोविड-19 टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव आई थी, जिसके बाद उन्हें कोविड आईसीयू से पीजीआईएमईआर के मेडिकल आईसीयू में स्थानांतरित कर दिया गया था.उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई मशहूर शख्सियतों ने शोक जताया है.

मिल्खा सिंह को पाकिस्तान के तानाशाह ने दी थी फ्लाइंग सिख की उपाधि, बंटवारे का दर्द भूलकर लाहौर में दौड़े थे

मिल्खा सिंह ने एशियन गेम्स में 4 गोल्ड जीते थे

मिल्खा सिंह ने एशियन गेम्स में 4 गोल्ड जीते थे और 1958 कॉमनवेल्थ गेम्स में भी वो चैम्पियन बने थे. 1960 के रोम ओलंपिक में वो 400 मीटर की रेस में वो चौथे स्थान पर आए थे. लेकिन, उन्होंने जितने समय में रेस पूरी की थी, वो 38 साल तक नेशनल रिकॉर्ड बना रहा. उन्हें 1959 में पद्मश्री मिला था.







[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here