[ad_1]

पुलिस ने जब नहीं लिया मनचलों पर एक्शन

पुलिस ने जब नहीं लिया मनचलों पर एक्शन

कानपुर देहात के एसपी (SP) केशव चौधरी ने बताया कि शिकायत पत्र मिलने के बाद क्षेत्राधिकारी (CO) से जांच कराई जाएगी.

कानपुर देहात. उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात (Kanpur Dehat) में मनचलों (Molesters) के आतंक के चलते एक छात्रा ने मौत का रास्ता चुन लिया. रसूलाबाद कोतवाली इलाके की रहने वाली दसवीं की छात्रा अपने घर के कमरे में पंखे से लटक कर अपनी जान दे दी. छात्रा ने मौत को गले लगाने से पहले एक सुसाइड नोट भी लिखा है जिसमें उसने जिक्र किया है कि इलाके के 2 शोहदे सुशील और आमिर उसे आते जाते रोजाना छेड़ते थे. पीड़िता के अनुसार उसने पूर्व में भी चौकी में मनचलों के खिलाफ शिकायत की थी. मगर पुलिस ने कोई कार्रवाई न करते हुए मामले को रफा-दफा कर दिया था.

शनिवार की रात इन मनचलों की फब्तियों से तंग आकर छात्रा फांसी के फंदे पर झूल गयी. वहीं छात्रा का शव पंखे में लटका देख परिवार में चीख-पुकार मच गई. इसके बाद मृतका के परिजनों ने रसूलाबाद कोतवाली पुलिस को मामले की जानकारी दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. वहीं पुलिस का कहना है कि मामले में एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है और परिजन जो भी लेकर शिकायत करेंगे, इसमें जांच कर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी.

लखीमपुर खीरी: बेटी के बीमार होने पर सिपाही ने मांगी छुट्टी, आग बबूला हो गया दारोगा

मामला सामने आने के बाद कानपुर देहात के एसपी केशव चौधरी ने बताया कि शिकायत पत्र मिलने के बाद क्षेत्राधिकारी से जांच कराई जाएगी. अगर कोई पुलिसकर्मी दोषी है तो उस पर भी कार्रवाई होगी. उन्होंने बताया कि घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी थी. फिलहाल पुलिस जांच पड़ताल में जुटी है. इससे पहले सरूरपुर थाना क्षेत्र के एक कस्बे से ट्यूशन पढ़ने जा रही छात्रा के साथ कुछ मनचलों ने हाथ पकड़कर छेड़खानी की थी. विरोध करने पर आरोपियों ने छात्रा के घर जाकर भुगत लेने की धमकी दी. पुलिस ने छात्रा के परिजनों की सूचना के आधार पर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया था.






[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here