रोहन बोपन्‍ना के पास रैंकिंग सुधारने का आखिरी मौका था (pc: Rohan Bopanna instagram)

रोहन बोपन्‍ना के पास रैंकिंग सुधारने का आखिरी मौका था (pc: Rohan Bopanna instagram)

रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) और क्रोएशिया के उनके जोड़ीदार फ्रेंको कुगोर को पाब्लो एंडुजार और पेड्रो मार्टिनेज की स्पेनिश जोड़ी के हाथों हार का सामना करना पड़ा

पेरिस. रोहन बोपन्ना (Rohan Bopanna) और क्रोएशिया के उनके जोड़ीदार फ्रेंको कुगोर को सोमवार को पुरुष युगल क्वार्टर फाइनल में हार का सामना करना पड़ा, जिससे फ्रेंच ओपन (French Open 2021) टेनिस टूर्नामेंट में भारत का अभियान समाप्त हो गया. बोपन्ना और कुगोर को पाब्लो एंडुजार और पेड्रो मार्टिनेज की स्पेन की जोड़ी के खिलाफ एक घंटा और 17 मिनट चले मुकाबले में सीधे सेटों में 5-7, 3-6 से हार झेलनी पड़ी.

भारत और क्रोएशिया की गैरवरीय जोड़ी को रविवार को प्रीक्वार्टर फाइनल में नीदरलैंड के मात्वे मिडलकूप और अल सलवाडोर के मार्सेलो अरेवालो की जोड़ी के खिलाफ वाकओवर मिला था.

रैंकिंग सुधारने के लिए बोपन्‍ना को थी अंक हासिल करने की जरूरत

इस जोड़ी ने दूसरे दौर में अमेरिका के फ्रांसेस टियाफो और निकोलस मोनरो पर सीधे सेट में जीत दर्ज की थी. विश्व रैंकिंग में 40वें स्थान पर काबिज 41 वर्षीय बोपन्ना को यहां अंक हासिल करने की जरूरत थी, क्योंकि उनके पास अपनी रैंकिंग सुधारने का यह अंतिम मौका था. 10 जून की रैंकिंग से ही टोक्यो ओलंपिक में प्रवेश तय होगा.यह भी पढ़ें: 

FIFA World Cup Qualifiers: सुनील छेत्री ने दागे 2 विजयी गोल, भारत ने 20 साल बाद विदेश जमीं पर दर्ज की जीत

फ्रेंच ओपन 2021 : नोवाक जोकोविच की क्वार्टर फाइनल में एंट्री, लोरेंजो से दो सेट गंवाने के बाद की वापसी

पिछले हफ्ते दिविज शरण और अंकित रैना को अपने अपने वर्ग के युगल के पहले दौर के मुकाबलों में ही हार का सामना करना पड़ा था. एकल वर्ग में सुमित नागल, रामकुमार रामनाथन, प्रजनेश गुणेश्वरन और अंकिता मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने में नाकाम रहे थे.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here