स्‍पूतनिक. (सांकेतिक तस्वीर)

स्‍पूतनिक. (सांकेतिक तस्वीर)

अब पैनेसिया बायोटक (Panacea Biotec) हर साल 10 करोड़ वैक्सीन डोज तैयार करेगी. कंपनी द्वारा तैयार की गई वैक्सीन की एक खेप रूस पहुंच भी चुकी है. वहां पर इसका क्वालिटी चेक किया जाएगा.

नई दिल्ली. भारत में कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम (Covid Vaccination Drive) को और धार मिलने जा रही है. देश की बड़ी वैक्सीन और दवा कंपनी पैनेसिया बायोटेक (Panacea Biotec) ने रसियन डायरेक्ट इनवेस्टमेंट फंड (Russian Direct Investment Fund-RDIF) के साथ करार किया है. अब पैनेसिया बायोटक हर साल 10 करोड़ वैक्सीन डोज तैयार करेगी. कंपनी द्वारा तैयार की गई वैक्सीन की एक खेप रूस पहुंच भी चुकी है. वहां पर इसका क्वालिटी चेक किया जाएगा. RDIF के स्टेटमेंट में कहा गया है कि पैनेसिया बायोटेक वैक्सीन निर्माण में अंतरराष्ट्रीय मानकों को पूरा करती है. भारत में रूसी वैक्सीन को बीते 12 अप्रैल को इमरजेंसी यूज की अनुमति दी गई थी. 1 मई से 18+वालों के वैक्सीनेशन की शुरुआत के साथ ही भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सीन के साथ तीसरी वैक्सीन का भी आगमन हुआ था. हालांकि स्पूतनिक से वैक्सीनेशन 14 मई को ही शुरू हो पाया. RDIF के सीईओ किरील दमित्रियेव ने कहा है-पैनेसिया बायोटेक के साथ भारत में प्रोडक्शन कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक बड़ा कदम है. स्पूनिक से प्रोडक्शन के साथ भारत को कोरोना के इस बुरे दौर को पीछे छोड़ने में मदद मिलेगी. इसके अलावा वैक्सीन को निर्यात कर दुनिया के अन्य देशों की भी कोरोना के खिलाफ लड़ाई में मदद की जा सकेगी.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here