महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति पहले से ही बेकाबू थी अब दिल्ली में अब तेजी के साथ मामले बढ़ रहे हैं. (तस्वीर-ap)

महाराष्ट्र में कोरोना की स्थिति पहले से ही बेकाबू थी अब दिल्ली में अब तेजी के साथ मामले बढ़ रहे हैं. (तस्वीर-ap)

महाराष्ट्र में RTPCR टेस्ट की फीस 500 रुपए ही देनी होगी. इसके अलावा एंटीजेन टेस्ट के लिए 150 रुपए चुकाने होगे. देश में सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के दौरान 39544 नए केस सामने आए हैं. वहीं देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार को 1819 के सामने आए हैं.

मुंबई/नई दिल्ली. कोरोना की तेज रफ्तार के मद्देनजर महाराष्ट्र (Maharashtra) में टेस्टिंग (Covid Testing) की कीमतों में कमी की गई है. अब राज्य में RTPCR टेस्ट की फीस 500 रुपए ही देनी होगी. इसके अलावा एंटीजेन टेस्ट के लिए 150 रुपए चुकाने होगे. देश में सर्वाधिक प्रभावित महाराष्ट्र में बीते 24 घंटे के दौरान 39544 नए केस सामने आए हैं.

इससे पहले खबर आई थी कि महाराष्ट्र में पूर्ण लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा. महाराष्ट्र सरकार के सूत्रों से न्यूज़18 को मिली जानकारी के मुताबिक जिलेवार कोरोना नियमों को सख्त किया जाएगा. साथ ही केंद्र सरकार द्वारा जारी की गाइडलाइंस को और सख्ती से लागू किया जाएगा. राज्य में कोरोना संबंधी नई गाइडलाइंस एक या दो अप्रैल से लागू कर दी जाएंगी.

मुंबई, पुणे, नागपुर से आ रहे सबसे ज्यादा केस
राज्य में बीते 24 घंटे के दौरान 39 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं. राजधानी मुंबई में 5399, पुणे में 4502 और नागपुर में 2114 केस सामने आए हैं. मंगलवार को देश में तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों के बीच केंद्र सरकार ने राज्यों से ज्यादा सघन कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करने को कहा है. सरकार ने कहा है कि प्रत्येक कोरोना केस पर कम से 25 से 30 लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की जानी चाहिए. इसके अलावा आइसोलेशन सेंटर्स की बेहतर व्यवस्था किए जाने की जरूरत है. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए जिला केंद्रित रणनीति तैयार करने पर जोर दिया है.क्या हैं राजधानी दिल्ली के हालात

वहीं देश की राजधानी दिल्ली में बुधवार को 1819 के सामने आए हैं. एक्सपर्ट्स के मुताबिक दिल्ली में कोरोना की स्थिति अभी और खराब हो सकती है. दिल्ली-एनसीआर में सक्रिय मामलों की संख्या हर रोज बढ़ते ही जा रहे हैं. देश के 10 शहरों में सक्रिय केसों की संख्या सबसे ज्यादा है, जिसमें दिल्ली भी एक है. दिल्ली में कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के बीच अब सरकार अस्पतालों में सामान्य और आईसीयू बेड बढ़ाने का फरमान जारी कर दिया है. वहीं बाजारों में भीड़ को देखते हुए कोविड नियमों का पालन ना करने वालों से सख़्ती से निपटने के आदेश दिए गए हैं. बावजूद इसके काफी लोग बिना मास्क के घूमते हुए नजर आ जाते हैं.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here