-0.3 C
New York
Thursday, February 2, 2023

Buy now

spot_img

महिला न्यूज एंकर ने ‘हिजाब पहनने की मांग को ठुकराया,ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने कैंसिल किया इंटरव्यू

खबर विशेष


ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने न्यूयॉर्क में होने वाले अपने इंटरव्यू को कैंसिल कर दिया है.
ब्रिटिश-ईरानी पत्रकार और टेलीविजन होस्ट अमनपुर के हिजाब पहनने से इनकार के बाद ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने अपना इंटरव्यू रद्द कर दिया. यह अमेरिकी धरती पर रायसी का पहला इंटरव्यू माना जा रहा था.


ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने न्यूयॉर्क में कैंसिल किया इंटरव्यू……..

टेलीविजन होस्ट अमनपुर ने हिजाब पहनने से किया था इनकार……..

ईरान में हिजाब को लेकर चल रहा है विरोध प्रदर्शन…….


प्रीति जॉर्ज

न्यूयॉर्क ……अमेरिका

ईरानी राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी ने संयुक्त राज्य में एक महिला समाचार एंकर के साथ अपना इंटरव्यू रद्द कर दिया, क्योंकि उन्होंने निर्धारित बातचीत के लिए हिजाब पहनने से इनकार कर दिया था. इंटरव्यू न्यूयॉर्क शहर में संयुक्त राष्ट्र महासभा में सीएनएन के क्रिस्टियन अमनपुर द्वारा होने वाला था, जो ईरानी मूल के हैं. यह अमेरिकी धरती पर रायसी का पहला इंटरव्यू माना जा रहा था.

ब्रिटिश-ईरानी पत्रकार और टेलीविजन होस्ट अमनपुर ने अपने ट्वीट्स में खुलासा किया कि असल में क्या हुआ था. उन्होंने कहा, “हफ्तों की योजना और अनुवाद उपकरण, लाइट और कैमरे लगाने के 8 घंटे के बाद, हम तैयार थे, लेकिन राष्ट्रपति रायसी की ओर से टीम को कोई संकेत नहीं मिला.’

न्यूज एंकर ने किया ट्वीट……..

अमनपुर ने कहा, ‘इंटरव्यू शुरू होने के 40 मिनट बाद, एक सहयोगी आया. उन्होंने कहा कि मुझे राष्ट्रपति, ने हेडस्कार्फ़ पहनने का सुझाव दिया था, क्योंकि यह मुहर्रम और सफर के पवित्र महीने हैं. मैंने विनम्रता से मना कर दिया. हम न्यूयॉर्क में हैं, जहां हेडस्कार्फ़ के संबंध में कोई कानून या परंपरा नहीं है. मैंने बताया कि किसी भी पूर्व ईरानी राष्ट्रपति ने ईरान के बाहर उनका साक्षात्कार करते समय इसकी आवश्यकता नहीं जाहिर की थी.’ .

इंटरव्यू कैंसिल होने के बाद ब्रिटिश – ईरानी पत्रकार और टेलीविजन होस्ट अमनपुर ने इस मुद्दे को लेकर किया ट्वीट ……

मालूम हो कि राष्ट्रपति इब्राहिम रायसी द्वारा इंटरव्यू रद्द करने की बात तब सामने आई जब ईरान में जबरन हिजाब की प्रथा के खिलाफ राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन चल रहा है. ईरान में जनता का गुस्सा तब से भड़क गया जब अधिकारियों ने 22 वर्षीय महसा अमीनी की मौत की घोषणा की, जिसे पुलिस ने कथित तौर पर “अनुचित” तरीके से हिजाब  पहनने के लिए हिरासत में लिया था और हिरासत में उसकी मृत्यु हो गई थी.न्यूज18

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,695FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles