गौशाला परिसर में हो रहे भुसौला निर्माण पर प्रबन्धक जता रहा था विरोध,गुस्से में चला दी गोली


सुलतानपुर। मालिक को बचाने के लिए सामने कूदकर असलहे की गोली खाने वाले वफादार कुत्ते “मैक्स” की इलाज के दौरान हुई मौत। जिला पशु चिकित्सालय में सुविधाएं भी उपलब्ध न होना बताई जा रही कुत्ते की मौत की मुख्य वजह। सूत्रों के मुताबिक गोली लगने के बाद करीब चार घण्टे तक इलाज के नाम पर डॉक्टर तमाम कराते रहे जांच पर जांच,दौड़ाते रहे कुत्ते के मालिक को। पशु चिकित्सालय के डॉक्टरों की लापरवाही हुई उजागर। अस्पताल में शायद होती पर्याप्त सुविधाएं तो बच सकती थी मालिक के लिए गोली खाने वाले वफादार कुत्ते की जान। वफादार कुत्ता न खेलता अपनी जान पर जा सकती थी उसके मालिक विशाल की जान। घटना के सम्बंध में पीड़ित विशाल श्रीवास्तव ने एसओ सुनील पांडेय को दी तहरीर। तहरीर के आधार पर गोली चलाने वाले इंटर कालेज के प्रबंधक आरोपी अनिल वर्मा एवं घटना में शामिल उनके ड्राइवर पर हत्या के प्रयास समेत अन्य धाराओं में दर्ज हो रहा मुकदमा। थानाध्यक्ष सुनील पांडेय ने बताया पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर एवं मृत कुत्ता के शव का पोस्टमार्टम कराकर होगी विधिक कार्यवाही। पशु प्रेमी सांसद मेनका गांधी के संसदीय क्षेत्र में गौशाला चलाने वाले विशाल श्रीवास्तव उर्फ शनि व उनके पालतू कुत्ते के साथ आरोपियो ने वारदात को दिया अंजाम। सूत्रों के मुताबिक मामले को मैनेज करने व पीड़ित पक्ष पर दबाव बनाकर मामले को मोड़ने के प्रयास में है आरोपी पक्ष। कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के विकवाजितपुर गांव का है मामला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here