नई दिल्ली. Cyclone Yaas Impact: बंगाल की खाड़ी में उठे चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) ने तबाही मचानी शुरू कर दी है. जिसके चलते कोलकाता हवाई अड्डा (Kolkata Airport) करीब 12 घंटे बंद रहेगा. कोलकाता हवाई अड्डे के अधिकारियों ने आज कहा कि आईएमडी द्वारा मौसम की चेतावनी के मद्देनजर, कोलकाता हवाई अड्डे पर उड़ानों का संचालन 26 मई को सुबह 8:30 बजे से शाम 7:45 बजे तक निलंबित रहेगा. कोलकाता हवाई अड्डे के अधिकारियों ने कहा कि ऐरो ब्रीज को बंद किया जा रहा है. एयरपोर्ट परिसर में निचले इलाकों से पानी निकालने के लिए पंपों को तैयार रखा गया है. छोटे विमानों को जमीन से बांधकर रखा जाएगा, वहीं अम्फान के दौरान गंभीर रूप से प्रभावित हुए बड़े विमानों को किसी भी तरह की क्षति से बचाने के लिए सावधानी बरती जा रही है. 26 मई को कोलकाता, हावड़ा और हुगली में हवा की गति 70 किमी प्रति घंटे से 80 किमी प्रति घंटे से 90 किमी प्रति घंटे तक पहुंच जाएगी. ये भी पढ़ें: PNB की इस स्पेशल स्कीम में ग्राहकों को मिलेगा ज्यादा ब्याज, जानें कैसे उठाएं फायदा 

विस्तारा ने किया दो उड़ानों को रद्द एयर विस्तारा ने 26 मई को कोलकाता-मुंबई और कोलकाता-दिल्ली रूट पर दो उड़ानें रद्द कर दिया है. भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (AAI) ने कहा कि चक्रवात यास के कारण भुवनेश्वर, कोलकाता, झारसुगुडा और दुर्गापुर हवाई अड्डों पर उड़ान संचालन प्रभावित होने की संभावना है, जबकि पूर्वी क्षेत्र के अन्य हवाई अड्डों को अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है. एएआई ने एक विज्ञप्ति में रांची, पटना, रायपुर, जमशेदपुर, बागडोगरा, कूचबिहार, विजाग और राजमुंदरी हवाई अड्डों को चक्रवात के मामले में अलर्ट पर रहने का निर्देश दिया गया है.
तूफान के अलर्ट के बाद रेलवे ने रद्द की कई ट्रेनें मौसम विभाग के तूफानी अलर्ट के बाद भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने नई दिल्ली से पुरी और भुवनेश्वर जाने वाली कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है. इनमें हावड़ा-यशवंतपुर एक्सप्रेस समेत कई ट्रेन शामिल हैं. वहीं, दक्षिण पूर्व रेलवे ने मैसूरु, हावड़ा, यशवंतपुर एक्सप्रेस समेत कई ट्रेन शामिल हैं. वहीं, दक्षिण पूर्व रेलवे ने मैसूरु, हावड़ा, यशवंतपुर, गुवाहाटी, अगरतला, पुरी, एर्नाकुलम और पुणे के बीच चलने वाली ट्रेनों को कैंसिल करने की घोषणा की है. ये भी पढ़ें: रोजाना सिर्फ 1 रुपये की बचत से बना सकते हैं 15 लाख का मौटा फंड, जानें कैसे भीषण तूफान बना यास एनडीआरएफ के डीजी एसएन प्रधान ने बताया कि चक्रवात यास एक भीषण चक्रवाती तूफान में बदल गया है, शाम तक हवाओं की रफ्तार बढ़ने की आशंका है. यह कल 160-185 किमी/घंटा से भी ज्‍यादा हो सकती है. एनडीआरएफ के पास 5 राज्यों और 1 केंद्र शासित प्रदेश में लगभग 115 टीमें तैनात हैं, जिनमें ओडिशा में 52 और पश्चिम बंगाल में 45 शामिल हैं.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here