[ad_1]

युवक ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

युवक ने पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं.

उत्तर प्रदेश के बरेली (Bareilly) के रहने वाले एक युवक ने पुलिस पर हाथ और पैरों में कील ठोकने का बड़ा आरोप लगाया है.

बरेली. पूरा देश इस वक्त कोरोना (COVID-19) दौर से गुजर रहा है. पिछले साल कोरोना काल में देश की पुलिस की छवि आम आदमी के सामने थोड़ी सुधरी थी. अब फिर एक घटना ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े कर दिया है. ताजा मामला उत्तर प्रदेश से जुड़ा है. बरेली (Bareilly) पुलिस पर एक युवक ने गंभीर आरोप लगाए हैं. युवक का कहना है कि पुलिस ने घर के बाहर बिना मास्क के बैठने पर हाथ-पैर में कीलें ठोक दी. हालांकि, युवक के सारे आरोपों को नकारते हुए पुलिस ने इसे सिर्फ साजिश करार दिया है. मामला बरेली है. यहां थाना बारादरी के जोगी नवादा में मास्क न पहनने पर एक युवक के हाथ और पैरों में कीलें ठोंकने का आरोप पुलिस पर लगा है. बरेली के बारादरी थाना क्षेत्र में रहने वाले रंजीत के हाथ और पैर में कील ठुंकी हुई मिली. बुधवार को वह थाने पहुंचा. परिजनों का कहना है कि वह रात में करीब 10 बजे घर के बाहर बैठा था. पुलिस गश्त पर आई और रंजीत पर बिफर गई. पुलिस उसे थाने ले गई और उसके हाथ-पैर में कीलें ठोंक दीं. रंजीत को बुरी तरह पीटा भी गया. पुलिस का आरोपों से इनकार मामला सामने आने के बाद अब पुलिस की ओ से भी जवाब आया है. पुलिस का दावा है कि आरोपी लगाने वाले युवक पर कई केस चल रहे हैे. साजिश के तौर पर पुलिस पर आरोप लगाए जा रहे हैं.

यहां हुआ बड़ा हादसा उत्तर प्रदेश के बांदा  में यमुना नदी में नहाने गए चार लड़के पानी की तेज धारा में बह गए. इस हादसे में एक लड़के की डूबने  से मौत हो गई. वहींं, तीन लड़कों को ग्रामीणों और स्थानीय लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद नदी से सुरक्षित बाहर निकाल लिया. घटना पैलानी थाना क्षेत्र के पिपरोदर गांव की है. बचाए गए तीनों लड़कों की हालत गंभीर बनी हुई है. उनके परिजनों द्वारा उन्हें जसपुरा सामुदायिक स्वास्थ केंद्र मे भर्ती कराया गया है जहां उनका उपचार चल रहा है.
बताया जा रहा है कि एक शादी समारोह में शामिल होने आए यह चारों लड़के यमुना नदी में स्नान करने गए थे. नहाने के क्रम में वो सभी गहरे पानी में उतर गए और डूबने लगे. उनकी चीख-पुकार सुनकर स्थानीय लोगों ने रेस्क्यू करना शुरू किया लेकिन तब तक एक लड़के की गहरे पानी में डूबने से मौत हो गई. ग्रामीणों ने शेष तीनों लड़कों को नदी से बाहर निकाला. उनके घरवालों को इसकी खबर दी गई और सामुदायिक स्वास्थ्य में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है. सूचना के बाद स्थानीय पुलिस और प्रशासन के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और लड़कों का हालचाल जाना.







[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here