प्रदेश में सरकारी और निजी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए खास सुविधा देने की सीएम ने घोषणा की है.

प्रदेश में सरकारी और निजी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए खास सुविधा देने की सीएम ने घोषणा की है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी सरकार ने एक आदेश जारी कर कहा है कि कोविड वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) के लिये सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों को छुट्टी दी जाएगी. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने यह कदम उठाया है.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना (Corona) के मामलों को देखते हुए सरकारी (Government) और निजी (Private) कंपनी में काम करने वाले लोगों के लिए एक खास सुविधा देने की घोषणा की है. अब सरकारी और निजी कंपनियों में काम करने वाले कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीनेशन के लिए एक दिन की छुट्टी दी जाएगी. साथ ही मुख्यमंत्री ने कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए प्रदेश में पूरी सतर्कता बरतने के निर्देश दिये हैं.

मुख्यमंत्री ने कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाये रखते हुए संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए सभी उपायों को सुनिश्चित करने के लिए अधिकारियों को आदेश दिया है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना टेस्टिंग का कार्य पूरी क्षमता से संचालित करें. साथ ही संदिग्ध मामलों में अनिवार्य रूप से आरटीपीसीआर टेस्ट किये जाए. सीएम ने फोकस टेस्टिंग पर विशेष ध्यान देने के लिए भी कहा है.

UP News: सीएम योगी कल से तमिलनाडु और केरल के दौरे पर जाएंगे, चुनावी रैलियों को करेंगे संबोधित

कक्षा 01 से 08 तक के स्कूल चार अप्रैल तक रहेंगे बंदमुख्यमंत्री ने प्रदेश में कक्षा 01 से 08वीं तक के सभी परिषदीय एवं निजी विद्यालयों को रविवार 04 अप्रैल, 2021 तक बंद रखने के निर्देश दिये हैं. अन्य विद्यालयों में कोविड प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन सुनिश्चित कराने के लिए कहा है. ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में निगरानी समितियों को पूरी तरह सक्रिय करने के भी सीएम ने आदेश दिये हैं.

कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग को प्रभावी ढंग से संचालित करने के निर्देश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वैक्सीनेशन कराने वाले सरकारी कर्मियों को टीकाकरण की तिथि पर अवकाश देने के लिए कहा है. साथ ही निजी सेक्टर के कर्मियों हेतु अवकाश की व्यवस्था भी कराने को कहा है. उन्होंने डेडिकेटेड कोविड अस्पतालों को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश दिये हैं. स्थानीय स्तर पर आकलन करते हुए कोविड चिकित्सालयों की संख्या में वृद्धि की करने की बात भी कही है.
कोविड सेंटरों पर आग लगने की घटनाओं को देखते हुये सीएम ने मेडिकल कॉलेज सहित सभी चिकित्सा संस्थानों तथा सरकारी एवं प्राइवेट अस्पतालों में अग्निशमन प्रबन्धों की ऑडिट प्राथमिकता से कराने के आदेश दिये हैं.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here