प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 2022 में होने वाले पहले विदेशी दौरे का शेड्यूल आ गया है। विदेश मंत्रालय के मुताबिक, रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच पीएम मोदी दो मई से चार मई तक यूरोप के दौरे पर रहेंगे। वे जर्मनी, डेनमार्क और फ्रांस का दौरा करेंगे और इन देशों के राष्ट्राध्यक्षों से मुलाकात करेंगे। बताया गया है कि मोदी जर्मनी में चांसलर ओलाफ शोल्ज के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। इसके अलावा वे भारत-जर्मनी के बीच छठवीं अंतर्सरकारी बैठक में भी हिस्सा लेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी जर्मनी के बाद डेनमार्क के प्रधानमंत्री मैट फ्रेडरिक्सन के न्योते पर कोपेनहेगन जाएंगे, जहां वे दूसरे इंडिया-नॉर्डिक समिट में हिस्सा लेंगे। चार मई को भारत लौटने से पहले मोदी फ्रांस में दूसरी बार चुनाव जीतकर राष्ट्रपति बने इमैनुएल मैक्रों से मिलेंगे। मैक्रों की चुनावी जीत के बाद मोदी उनसे मुलाकात करने वाले पहले नेताओं में होंगे।

पीएम मोदी का यह यूरोप दौरा इस लिहाज से भी अहम माना जा रहा है कि यूरोप लगातार भारत से रूस पर अपनी निर्भरता कम करने के लिए कहता रहा है। इसके अलावा रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव कह चुके हैं कि अगर रूस-यूक्रेन युद्ध को रुकवाने में भारत मध्यस्थता करता है, तो उन्हें कोई आपत्ति नहीं है। ऐसे में पीएम इन तीनों देशों से संकट को हल करने पर भी चर्चा कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here