[ad_1]

औरैया. आपने शादी टूटने की बहुत सारी वजहें सुनी व देखी होंगी लेकिन उत्तर प्रदेश के औरैया (Auraiya) जनपद में दूल्हे हिंदी का अखबार नहीं पढ़ पाया तो इस वजह से उसकी शादी टूट गई. यही नहीं और दूल्हे पक्ष के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज हो गया है. वैसे बता दें कि दूल्हे द्वारा हिंदी का अखबार न पढ़ पाने की वजह यह नहीं है कि उसे पढ़ना नहीं आता बल्कि दूल्हा सुशिक्षित है. कमी उसकी आंख को लेकर सामने आई. नजर कमजोर होना लड़के के लिए अभिशाप बन गया. शादी टूटी, दुल्हन न मिली और मुकदमा लिखा गया वो अलग.

जिस घर में 2 दिन पूर्व मंगलगीत और हंसी किलकारियों से गुंजायमान था, वही घर आज गम और हत्प्रभि सा पूरे गांव में अलग से ही दिखता है. दरअसल यूपी के औरैया जनपद के सदर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम जमालीपुर निवासी अर्जुन सिंह ने अपनी बेटी अर्चना की शादी शिवम निवासी बंशी थाना अछल्दा में तय की. पढ़े-लिखे सुशिक्षित लड़के को देखकर अर्जुन सिंह ने पहली ही नजर में लड़के को पसंद कर लिया. इसके बाद सारी तैयारियों के साथ तय-तारीख निकाली गई. दहेज में मोटरसाइकिल व नगदी भी देकर शगुन चढ़ा.

शगुन चढ़ने के बाद शादी टूटी

auraiya groom

औरैया में एक शख्स शिवम की शादी ऐन मौके पर इसलिए टूट गई क्योंकि वह अखबार नहीं पढ़ सका.

बारात में चश्मा लगाया दिखा दूल्हा तो हुआ शक

लड़की के पिता अर्जुन सिंह ने बताया कि 20 जून को जब बारात घर पर आई तो दूल्हे लगातार पूरे समय नजर का चश्मा लगाया दिखा. महिलाओं को संदेह हुआ, इस पर जब दूल्हा शिवम से हिंदी का अखबार बिना चश्मे के पढ़वाया तो वह पढ़ नहीं सका. लड़का बिना चश्मा के देख नहीं सकता था. यह देख सुनकर वधु यानी अर्चना ने शादी करने से मना कर दिया. इसके बाद लड़की पक्ष के सभी लोगों ने एकमत होकर लड़के पक्ष से शादी करने से मना कर दिया. फिर दहेज में दिए गए नगदी व गाड़ी को वापस करने और जो भी शादी में खर्चा हुआ सभी की वापसी की मांग की. लड़के पक्ष ने जब इंकार किया तो वधू पक्ष की तरफ से कोतवाली औरैया में तहरीर देकर एफआईआर लिखवा दी है.

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here