सुल्तानपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की तरफ से माह में दो बार गरीबी रेखा और इससे नीचे के परिवारों को राशन दिए जाने की व्यवस्था में अनाज माफिया घुसपैठ कर चुके हैं। खाद्य विभाग की गोदामों में हो रहे अवैध कारनामों की पोल प्रशासनिक छापे से खुलने लगी है। जिला खाद्य एवं विपणन विभाग की दुबेपुर ब्लॉक गोदाम पर राशन की जांच करने पहुंचे उपजिलाधिकारी सदर सीपी पाठक को देख कोटेदार और ट्रैक्टर चालक भाग रहे हैं। ट्रैक्टर पर लोड राशन की जांच के दौरान अफरातफरी की स्थिति देखी जा रही है। दूसरे स्तर के पर्यवेक्षण अधिकारी नदारद है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की तरफ से माह में दो बार दिए जा रहे राशन व्यवस्था में घट तौली की पोल खुलती जा रही है। विभागीय सूत्र कहते हैं कि अनाज माफियाओं की सक्रियता से ब्लॉक गोदामों से बड़े पैमाने पर सरकारी राशन का काला कारोबार चल रहा है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली का गेहूं और सरकारी गेहूं खरीद को मिलाकर बड़े पैमाने पर गोलमाल किया जा रहा है।जिलाधिकारी रवीश गुप्ता कहते हैं कि पूरे मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।किसी भी अनाज माफिया की संलिप्तता पर मार्केटिंग इंस्पेक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here