(सुल्तानपुर/योगेश यादव)शहर के ‘वेंडिंग जोन’ के लिए एसडीएम सदर सीपी पाठक की मौजूदगी में जेसीबी ने शुरू हुई खुदाई।जिला प्रशासन की ओर से मंगलवार को शहर में वेंडिंग जोन घोषित किया गया। नगर कोतवाली के निकट (जीआईसी के पीछे) खाली पड़ी भूमि पर वेंडिंग जोन में आज जेसीबी गर्जी।
दिशा की बैठक में सांसद ने दिए थे निर्देश
(सुल्तानपुर)मार्ग सड़क चौड़ीकरण में पटरी पर ठेला ,खोमचा और फेरी वाले दुकानदारों की समस्याओं को लोगों ने सांसद मेनका गांधी के समक्ष रखा था। दिशा की बैठक में महत्वपूर्ण बिंदुओं में यह भी एक गंभीर विषय था। सांसद मेनका गांधी ने सदर विधायक विनोद सिंह की मौजूदगी में दुकानदारों की रोजी रोटी के लिए वेल्डिंग जोन प्रस्ताव पारित कराया था। जिस पर दुकानदारों की सुध लेते हुए उन्हें वेंडिंग जोन में दुकानदारी करने का अवसर दिया जाएगा। सांसद प्रतिनिधि रणजीत सिंह ने बताया कि सड़क चौड़ीकरण के बाद ट्रैफिक में कोई अड़चन पैदा हो इसके लिए यह प्लान तैयार किया गया।पटरी के दुकानदारों को कोई परेशानी और ना ही उन्हें अतिक्रमण हटाओ अभियान में परेशानी आये इसके लिए उन्हें वेंडिंग जोन में जल्द बसाया जाएगा ।आम जनता को दुकानदारी करने का अवसर मिलेगा। जिससे शहर के मार्ग में आवागमन में राहगीरों को परेशानी ना हो ,जिला अस्पताल की एंबुलेंस जाम में न फंसे इसलिए यह गंभीर विषय पर कार्य शुरू हो गया है ।वही सुल्तानपुर विधायक विनोद सिंह के प्रतिनिधि राजेश पांडेय ने बताया कि नगर कोतवाली के बगल स्थित जीआईसी स्कूल के पीछे शुरू हुआ ‘वेंडिंग जोन’ का निर्माण।
करीब 30 मीटर लंबी और 200 फीट चौड़े स्थान पर कार्य प्रारंभ हो गया है। मिट्टी से उक्त स्थान को ऊंचा किए जाने का भी कार्य चल रहा है। सदर एसडीएम सीपी पाठक ने बताया कि आज मंगलवार को वेंडिंग जोन की भूमि को समतल करने के लिए तीन jcb लगाई गई है।यह कार्य तीव्र गति से चल रहा है ।शासन को पत्रावली भी भेजी जा चुकी है।
एसडीएम सदर की नजरों से दूर किये गए छुट्टा मवेशी
(सुल्तानपुर)एसडीएम सदर के निर्माणाधीन स्थल पर वेंडिंग जोन वाले स्थल पर पहुंचते ही जिला पंचायत राज महकमें की पोल खुल गई। छुट्टा मवेशियों को पकड़ने के लिए लाखों रुपए वारे न्यारे हुए लेकिन जब जिले की हृदय स्थली पर बन रहे वेंडिंग जोन पर एसडीएम सदर पहुंचे तो वहां दर्जनों छुट्टा मवेशी मौजूद मिले ।सकते में आए मातहत कर्मियों ने उन जानवरों को खदेड़ दिया। लेकिन आसपास मौजूद लोगों ने कहा कि लाखों करोड़ों के बजट पर किस तरह जिम्मेदार महकमा मलाई काट रहा है ।जेसीबी कि पहुंचते हकीकत से रूबरू हुए एसडीएम असहज हो गए।फिलवक्त मातहत कर्मचारियों ने खदेड़ कर एसडीएम साहब की नजरों से दूर कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here