[ad_1]

अब इस मामले में एसपी डॉ. विपिन कुमार मिश्र ने कहा कि पीड़िता ने पूरे मामले की जानकारी दी है. (आरोपी दारोगा)

अब इस मामले में एसपी डॉ. विपिन कुमार मिश्र ने कहा कि पीड़िता ने पूरे मामले की जानकारी दी है. (आरोपी दारोगा)

अमेठी जिले की रहने वाली एक युवती शहर के निराला नगर मोहल्ले (Nirala Nagar Mohalla) में किराए पर रहती है और शहर में ब्यूटी पार्लर चलाती है.

 सुल्तानपुर. उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर (Sultanpur) में एक युवती ने दारोगा पर अश्लील मैसेज व वीडियो कॉल (Obscene Messages And Video Calls) कर परेशान करने का आरोप लगाया है. दारोगा द्वारा युवती से वीडियो कॉलिंग का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस मामले में युवती ने पुलिस अधीक्षक से शिकायत की है. एसपी ने मामले में सीओ सिटी को जांच सौंप दी है. जानकारी के अनुसार, अमेठी जिले की रहने वाली एक युवती शहर के निराला नगर मोहल्ले (Nirala Nagar Mohalla) में किराए पर रहती है और शहर में ब्यूटी पार्लर चलाती है. पीड़ित युवती का आरोप है कि चौकी इंचार्ज विकास कुमार ने किसी से उसका मोबाइल नंबर ले लिया और उसे अश्लील मैसेज व वीडियो कॉल करने लगे. चौकी इंचार्ज उसे आते-जाते समय अश्लील इशारा करते थे. गर्लफ्रेंड बनाने के लिए वीडियो कॉल कर अश्लील इशारे किया करते थे. युवती के मना करने पर दारोगा ने उस पर झूठा केस दर्ज कर बदनाम करने के लिए धमकाया था. दरोगा की पूरी करतूत युवती ने रिकॉर्ड कर ली और एसपी को दरोगा की वीडियो कॉल और स्क्रीन शॉर्ट और ऑडियो सौंपा दिया.

आपको बता दें कि युवती को अश्लील मैसेज भेजने के आरोपी दरोगा विकास कुमार पहले भी ऐसे ही मसले को लेकर सुर्खियों में आ चुके हैं. बताया जा रहा है कि बल्दीराय थाने की वलीपुर रिपोटिंग चौकी के इंचार्ज रहने के दौरान दिसंबर 2020 में उन पर एक युवती को अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगा था. 20 दिसंबर 2020 को पीड़िता ने तत्कालीन एसपी शिवहरी मीणा से मिलकर बताया था कि जब वो चौकी इंचार्ज विकास कुमार के पास फरियाद लेकर पहुंची और मदद मांगी तो मदद देने की आड़ में मोबाइल नंबर लेकर वो अश्लील मैसेज भेजने लगे. मामले की जांच सीओ बल्दीराय विजयमल को सौंपी गई थी. उस समय एसपी ने दरोगा को लाइन हाजिर कर दिया था.

रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी

वहीं, अब इस मामले में एसपी डॉ. विपिन कुमार मिश्र ने कहा कि पीड़िता ने पूरे मामले की जानकारी दी है. मामला गंभीर है. इसकी जांच सीओ सिटी राघवेंद्र चतुर्वेदी को सौंपी है. सीओ की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.







[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here