वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को तंबाकू से होने वाले स्वस्थ्य नुकसान के विषय में सचेत करना है.

वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को तंबाकू से होने वाले स्वस्थ्य नुकसान के विषय में सचेत करना है.

रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में वर्तमान में 30 करोड़ से अधिक लोग सिगरेट पीते हैं. वहीं, 15 वर्ष और उससे अधिक आयु के लगभग 26.6 प्रतिशत चीनी लोग धूम्रपान करने वाले है और इस आयु वर्ग के आधे से अधिक पुरुष सिगरेट पीते हैं.

बीजिंग. चीन में हर साल धूम्रपान (Smoking) से जुड़ी बीमारियों के कारण 10 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो जाती है और धूम्रपान का मौजूदा चलन जारी रहा तो 2030 तक यह संख्या दोगुणी हो जाएगी. एक रिपोर्ट में बुधवार को इस बारे में आगाह किया गया. दुनिया में धूम्रपान करने वाले सबसे ज्यादा लोग चीन में ही हैं. देश में 35 करोड़ लोग धूम्रपान करते हैं. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) और विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के चीन कार्यालय द्वारा संवाददाता सम्मेलन में यह रिपोर्ट जारी की गयी. इस रिपोर्ट में चीन में धूम्रपान की स्थिति और इसके नकारात्मक असर का उल्लेख किया गया है. वर्तमान में 30 करोड़ से अधिक लोग पीते हैं सिगरेट शिन्हुआ समाचार एजेंसी के मुताबिक, रिपोर्ट में कहा गया है कि देश में वर्तमान में 30 करोड़ से अधिक लोग सिगरेट पीते हैं. वहीं, 15 वर्ष और उससे अधिक आयु के लगभग 26.6 प्रतिशत चीनी लोग धूम्रपान करने वाले है और इस आयु वर्ग के आधे से अधिक पुरुष सिगरेट पीते हैं. ‘वर्ल्ड नो टोबैको डे’ के पहले यह रिपोर्ट जारी की गयी है. यह दिवस 31 मई को है.ये भी पढ़ेंः- अब बाजार में भी मिलेगी DRDO की कोविड-19 रोधी दवा 2-डीजी, कल जारी होगी दूसरी खेप वर्ल्ड नो टोबैको डे मनाने का मुख्य उद्देश्य लोगों को तंबाकू से होने वाले स्वस्थ्य नुकसान के विषय में सचेत करना है. डब्ल्यूएचओ के मुताबिक तंबाकू की वजह से दुनिया भर में हर साल 8 मिलियन लोगों की मौतें होती हैं. वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के द्वारा नो टोबैको डे की शुरुआत की गई थी. इसका उद्देश्य लोगों को तंबाकू के स्वास्थ्य पर होने वाले खतरे और साइड इफेक्ट को लेकर जागरुक करना था और उन्हें इस चीज के इस्तेमाल से दूर करना था.

वर्ल्ड नो टोबैको डे का महत्व (World No Tobacco Day Significance) इसी बात से लगाया जा सकता है तंबाकू की वजह से कितने लोगों की सालभर में मौत हो जाती है. तंबाकू के इस्तेमाल से कैंसर, दिल से जुड़ी गंभीर बीमारी, दांतों की बीमारी जैसी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा हो जाती हैं.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here