[ad_1]

हाथरस कांड Live: पीड़ित परिवार से मिलने राहुल-प्रियंका रवाना, जिले की सीमा सील, धारा 144 लागू

हाथरस जा सकते हैं राहुल और प्रियंका (फाइल फोटो)

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और प्रियंका (Priyanka Gandhi) सुबह 11 बजे के करीब हाथरस के लिए रवाना हो सकते हैं. इनके आने की सूचना पर यूपी पुलिस अलर्ट पर है.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 1, 2020, 11:50 AM IST

हाथरस. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के हाथरस में दलित बिटिया से कथित गैंगरेप के बाद हैवानियत के मामले में सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक आक्रोश देखने को मिल रहा है. साथ ही इस मामले में सियासत भी शुरू हो गई. इसी क्रम में गुरुवार को कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) पीड़ित परिवार से मिल बुलगाड़ी गांव जा सकते हैं. प्रियंका व राहुल गांधी के शहर में आने की बात स्थानीय कांग्रेसी नेता भी कह रहे हैं. हालांकि, इस बीच पुलिस को भी अलर्ट कर दिया गया है. जानकारी के अनुसार, हाथरस धारा 144 लगा दी गई है.

मिल रही जानकारी के मुताबिक राहुल गांधी और प्रियंका सुबह 11 बजे के करीब हाथरस के लिए रवाना हो सकते हैं. राहुल और प्रियंका के आने की सूचना पर यूपी पुलिस अलर्ट पर है. कहा जा रहा है कि दोनों को डीएनडी पर ही रोका जा सकता है.

एसपी बोले- शहर में नहीं घुसने देंगे
एसपी विक्रांत वीर ने बताया है कि उन्हें राहुल और प्रियंका के आने की उनके प्रोटोकॉल के तहत कोई जानकारी नहीं मिली है. सीमाएं सील हैं. किसी को हाथरस की तरफ नहीं आने दिया जाएग, क्योंकि राजनीतिक तत्‍व की वजह से भीड़ बढ़ सकती है. लॉ एंड आर्डर बिगड़ने की आशंका को देखते हुए उन्हें सीमाओं पर ही रोका जाएगा.कांग्रेस जिलाध्यक्ष समेत 145 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

हाथरस में बुधवार को हुए बबाल के बाद पुलिस ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई की है. उपद्रव कर रहे 145 लोगों के खिलाफ कोतवाली सदर में मुकदमा दर्ज किया गया है. कांग्रेस के जिलाध्यक्ष सहित 25 नामजद व 120 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. आईपीसी की धारा 147, 149, 332, 353, 336, 347, 427 और 3 सार्वजनिक संपत्ति निवारण अधिनियम के तहत सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है. इतना ही नहीं आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए आईजी ने कई टीम भी गठित की है. बुधवार को कोतवाली सदर क्षेत्र के शहर में बवाल हुआ था इस दौरान सरकारी सम्मति को नुकसान पहुंचाया गया था.



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here