नेताजी सुभाष चंद्र बोस के करीबी रहे मोहमद इसहाक!
आजादी की लड़ाई अहम भूमिका निभाने वाले मोहम्मद इसहाक की 23वीं जन्मतिथि मनाई गई।आपका जन्म गोंडा जिला के होलापुर गांव में हुआ था! सिलसिले रोजगार इनके पिता स्वतंत्रा सेनानी याद आली रंगून में काम करते थे। वहीं से रंगून की जूनियर हाई स्कूल से कक्षा आठ तक पढ़ाई की उसके बाद नेताजी सुभाष चंद्र बोस की विचारधारा से प्रभावित होकर सपरिवार आजादी की लड़ाई में शामिल हो गया! आजादी की लड़ाई के समय मोहम्मद इसहाक ने अपने माता पिता खो दिया और आजादी की लड़ाई में पिता याद अली और माता शहीद हो गए! आजादी की लड़ाई के समय कई बार मोहम्मद इसहाक प्रदेश की जेलों के साथ साथ कोलकाता जेल में भी बंद रहे ।आजादी की लड़ाई के समय कई बार अंग्रेजों की गोलियों से घायल हुए ! नेताजी सुभाष चंद्र बोस के साथ कंधे से कंधा मिलाकर देश को आजाद कराया ।वर्ष 1945 में नेताजी से बिछड़ने के बाद उन्हें बिछड़ने का दर्द सालता रहा! देश की आज़ादी के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस में बतौर हेड कांस्टेबल नौकरी कर अपनी जिंदगी का गुजर-बसर किया और अमेठी जनपद से सेवानिवृत्त हो गए! 22 अप्रैल ,1999 को लंबे समय से बीमार चल रहे इस तरह का निधन हो गया! गांधी परिवार से करीबी तो थे ही साथ ही वह जिले की सांसद श्रीमती गाँधी के पति संजय गांधी करीबी काफी प्रिय थे । संजय गांधी के निधन के बाद गांधी परिवार से दूरियां बनती गयी! स्वतंत्र सेनानी की पेंशन ले चुके हैं मोहम्मद इसहाक! पूरा परिवार एकता सुल्तानपुर जनपद के इटकौली गांव में रेहता है इनके पात्र मोहम्मद फैजान का कहना है सरकार और जिला प्रशासन की ओर से उनके परिवार को कोई सम्मान नहीं किया जाता भले ही सरकार आजादी महोत्सव के नाम पर लाखों-करोड़ों पर खर्च कर रही हो लेकिन जिले का बड़ा नाम होने के बावजूद भी कहा कि आज तक प्रतिमा भी नहीं लगी और ना ही उनके परिवार को किसी अवसर पर याद किया जाता है! प्रधानमंत्री से सम्मानित हो चुका परिवार ।मोहम्मद इसहाक का बड़े पुत्र मोहम्मद अशफाक की मांग है जिले के चौराहे का नाम उनके पिताजी के नाम पर रखा जाए और उनके परिवार को सम्मानित किया जाए और उनके परिवार की आर्थिक सहायता सरकार द्वारा की जाए! रोजगार के लिए एक दुकान का आवंटन नगर पालिका में किया जाए और उनके पिताजी के नाम पर जिला पंचायत और नगर पालिका में एक प्रतिमा लगाई जाए और उनके नाम से एक सड़क का निर्माण कराया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here