कानपुर16 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
गंगा में जलकुंभी की भरमार। - Dainik Bhaskar

गंगा में जलकुंभी की भरमार।

कानपुर में बीते 15 दिन के अंदर लाखों लोगों को फिर से जलसंकट का सामना करना पड़ रहा है। इस बार गंगा में जलस्तर बढ़ने से जलकुंभी भी भारी मात्रा में बहकर आ रही है। मंगलवार सुबह को भी वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक कच्चा पानी पहुंचाने वाले बैरल (मुख्य पाइप लाइन) के मुहाने में जलकुम्भी फंसने से वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है। इससे जल निगम को मजबूरी में एक ही प्लांट चलाकर पानी सप्लाई करना पड़ रहा है।

एक टाइम पानी सप्लाई

गंगा बैराज और भैरव घाट पंपिंग स्टेशन से पानी कम मिलने की वजह से जलकल और जल निगम के दो प्लांट में से एक एक प्लांट ही चल पाया। जल निगम के प्रोजेक्ट मैनेजर शमीम अख्तर ने बताया कि बैराज से कम पानी मिलने के कारण हमारे विभाग और जलकल विभाग के वाटर ट्रीटमेंट प्लांट में से एक समय में एक प्लांट ही चल पा रहा है, दूसरा प्लांट बंद रखना पड़ रहा है। इसकी वजह से कानपुर सिटी, साउथ सिटी ही नहीं बल्कि शहर के पश्चिमी क्षेत्र को रोज से लगभग आधा पानी ही मिल पा रहा है।

लाखों लोग परेशान

प्लांट पूरी क्षमता से न चलने पर लोगों को बमुश्किल एक टाइम ही पानी मिल पा रहा है। लोग आसपास लगे हैंडपंप, पड़ोस के सबमर्सिबल और नलकूप से पानी लेकर काम चला रहे हैं। करीब 10 करोड़ लीटर पानी सप्लाई की कमी हो गई है। विजय नगर, शास्त्री नगर, किदवई नगर, रामादेवी, विष्णुपुरी, सर्वोदय नगर, काकादेव, नवीन नगर, पीरोड, सीसामऊ, परेड, रावतपुर, बर्रा, गोविंद नगर समेत दर्जनों एरियाज में लोगों को पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here