यह झुंड यूनान प्रांत से प्रांत की राजधानी कुनमिंग तक पहुंचा है. (फोटो: AP)

यह झुंड यूनान प्रांत से प्रांत की राजधानी कुनमिंग तक पहुंचा है. (फोटो: AP)

China Elephant Travel Issue: आधिकारिक रिपोर्टों के अनुसार, झुंड में अब छह मादा और तीन पुरुष वयस्क, तीन किशोर और तीन बछड़े शामिल हैं. फिलहाल, इस बात का खुलासा नहीं हो सका है कि हाथियों ने आखिर इतना लंबा सफर क्यों तक किया.

बीजिंग. चीन (China) के दक्षिण-पश्चिम इलाकों में हाथियों का एक झुंड अंतरराष्ट्रीय मीडिया की सुर्खियां बना हुआ है. करीब 15 हाथियों का यह समूह अपनी 500 किमी की यात्रा के कारण चर्चा में है. अब इस झुंड की एक तस्वीर सामने आई है, जिसमें सभी सदस्य एक जगह आराम फरमाते हुए नजर आ रहे हैं. इस झुंड ने घरों, खेतों और फसलों से गुजरते हुए यह सफर तय किया है.

रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि हाथियों ने एक लाख डॉलर की फसलों को नुकसान पहुंचाया है. एपी की रिपोर्ट के अनुसार, यह झुंड यूनान प्रांत से प्रांत की राजधानी कुनमिंग तक पहुंचा है. चीन में लगातार ड्रोन्स और कैमरे की मदद से इस झुंड की गतिविधियों पर नजर रखी जा रही थी. हालांकि, इस दौरान किसी तरह की जनहानि की खबर नहीं है.

यह भी पढ़ें: आखिर कैसी है चीन की वो वुहान लैब, जो दुनियाभर में कोरोना के चलते चर्चाओं में

एपी के अनुसार, इस दल में सबसे पहले 16 हाथी शामिल थे, लेकिन सरकार का कहना है कि इनमें से दो वापस लौट गए और सफर के दौरान एक बच्चे का जन्म हुआ. आधिकारिक रिपोर्टों के अनुसार, झुंड में अब छह मादा और तीन पुरुष वयस्क, तीन किशोर और तीन बछड़े शामिल हैं. फिलहाल, इस बात का खुलासा नहीं हो सका है कि हाथियों ने आखिर इतना लंबा सफर क्यों तक किया. कई लोग अनुमान लगा रहे हैं कि झुंड का नेतृत्व करने वाला रास्ता भटक गया होगा.

एपी से बातचीत में वर्ल्ड वाइल्ड लाइफ फंड के एशियन स्पिसीज कंजर्वेशन के मैनेजर नीलंग जयसिंह के एशियन हाथी अपने घरों को लेकर काफी वफादार होते हैं. बदलाव होने, संसाधनों की कमी या विकास होने की स्थिति में जगह बदल सकते हैं. सरकार ने लोगों को घर के अंदर रहने के आदेश दिए हैं. साथ ही बाहर मक्का या नमक नहीं रखने के लिए कहा है. साथ ही यह भी आदेश दिए गए हैं कि पटाखों का इस्तेमाल ना करें, इससे हाथी डर सकते हैं.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here