Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखनऊ5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
UP के सरकार के चार साल पूरे होने पर लोकभवन में पत्रकारों से मुखातिब सीएम योगी के साथ अन्य। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

UP के सरकार के चार साल पूरे होने पर लोकभवन में पत्रकारों से मुखातिब सीएम योगी के साथ अन्य। (फाइल फोटो)

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार को 19 मार्च को 4 साल पूरे हो गए। सूबे की कमान संभालने के बाद से अभी तक सरकार ने भू माफिया के खिलाफ जो अभियान चलाया है उसमें करीब 1000 करोड़ की संपत्ति या तो जब्त की गई है या तो ध्वस्त किया गया है। वहीं महिलाओं को लेकर मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। एक तरफ जहां गांव में नाली-खड़ंजा, प्राइमरी स्कूलों का जीर्णोद्धार किया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ किसानों की आय दोगुना करने के लिए सरकार लगातार प्रयास कर रही है।

वहीं धार्मिक स्थलों पर पर्यटन के दृष्टिकोण से विकसित करने के लिए अयोध्या, बनारस और मथुरा में विशेष पैकेज के साथ अन्य धार्मिक स्थलों वाले शहरों का कायाकल्प किया गया है। प्रदेश में इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देने के लिए एयर कनेक्टिविटी और रोड कनेक्टिविटी में बड़े स्तर पर विकास किया जा रहा। हम यहां योगी सरकार के 4 साल को इन 5 मुद्दों से समझाने का प्रयास करते हैं।
​​​​​चार लाख दी गई सरकारी नौकरियां, अन्य क्षेत्र में रोजगार
सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए मुख्यमंत्री ने दावा किया कि 4 सालों में 4 लाख सरकारी नौकरियां दी गईं हैं। वहीं 5 लाख युवाओं को रोजगार मुहैया कराया गया जबकि अन्य राज्यों से आए, 40 लाख से अधिक श्रमिकों, कामगारों की स्किल मैपिंग कर रोजगार से जोड़ा गया। मनरेगा के तहत सौ करोड़ से ऊपर, मानव दिवस सृजित कर 1.50 करोड़ श्रमिकों को रोजगार दिए गए। सबको शिक्षा का समान अवसर दिया गया।

सड़क और एयर कनेक्टिविटी पर जोर
4 साल का आंकड़ा जारी करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि, जहां 70 साल में कुल 2 एयरपोर्ट प्रदेश को मिले थे। वहीं 4 वर्ष में 5 इंटरनेशनल एयरपोर्ट को बनाने का कार्य किया गया है। लखनऊ, गाजियाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा मेट्रो संचालित हैं। जबकि कानपुर, आगरा में मेट्रो इसी साल के अंत तक शुरू हो सकती है।

वाराणसी में हल्दिया तक 15 किमी राष्ट्रीय जलमार्ग की शुरूआत की जा चुकी है। जल्द ही प्रयागराज तक इसे बढ़ाया जाएगा। इसके पहले प्रदेश में मात्र दो एक्सप्रेस वे संचालित थे। अब 5 एक्सप्रेस-वे का निर्माण कराया जा रहा है। बुंदेलखंड और पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य 90 फीसदी पूर्ण हो गए हैं। बचा हुआ काम अप्रैल तक की पूरा किया जाएगा। गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस 92 किमी और बलिया लिंक एक्सप्रेस का निर्माण को मंजूरी दी जा चुकी हैं।

निराश्रित गोवंश पर रहा सरकार का फोकस
गोवंश आश्रय स्थलों में 5 लाख 60 हजार गोवंशों को संरक्षित किया गया। साथ ही लोगों द्वारा गोवंश रखने पर 900 रुपए प्रतिमाह सहायता के तौर पर सरकार की तरफ दिया गया। मुख्यमंत्री गोवंश सहभागिता योजना के तहत 2022 गो-पालकों को लगभग 80,000 गोवंश सुपुर्द किए गए।

कानून व्यवस्था स्थापित करने के लिए एंटी भू-माफिया का गठन
सरकार के 4 साल में प्रदेश में 20 मार्च 2017 से 15 मार्च 2021 तक यूपी के विभिन्न जनपदों में हुई पुलिस मुठभेड़ में 135 अपराधी मारे गए। गैंगस्टर अधिनियम के तहत 12,032 मुकदमें दर्ज किए गए और 37,511 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं भू माफियाओं की 1000 करोड़ की संपत्ति जब्त की गई है।

सीएए एवं एनआरसी के दौरान उपद्रव करने वाले दंगाइयों के पोस्टर चौराहे पर लगवा दिए गए थे। सरकार का दावा है कि प्रदेश में बीते 4 साल में कोई भी दंगा नहीं हुआ है। लखनऊ और गौतम बुद्ध नगर में पुलिस कमिश्नर व्यवस्था लागू की गई है। प्रदेश के 1535 थानों पर महिला हेल्पडेस्क की स्थापना की गई है।

चार साल में 30 नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण
सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए योगी ने कहा कि 4 वर्ष में 30 नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण हुआ। गोरखपुर एवं रायबरेली में एम्स संचालित हुई। कोरोना प्रबंधन को लेकर WHO द्वारा सरकार की प्रशंसा हुई। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश 3 करोड़ से अधिक कोविड जांच करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। लेवेल 1,2 और 3 के कुल 674 चिकित्सालय क्रियाशील हैं। 242 से अधिक टेस्टिंग लैब स्थापित किये गए हैं। देश के सबसे बड़े प्लाज़्मा बैंक की लखनऊ में स्थापना की गई हैं। 64 हज़ार से अधिक कोविड़ हेल्प डेस्क स्थापित किए गए हैं।

योगी ने कहा कि पूर्वांचल में दिमागी बुखार पर अब नियंत्रण किया जा चुका है, जिससे मृत्यु दर में 95 प्रतिशत तक की कमी आई है। प्रत्येक रविवार को पीएचसी पर मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में स्वास्थ्य प्रशिक्षण एवं इलाज किया जा रहा है जिससे अब तक 54 लाख से अधिक लोग लाभान्वित हुए है। प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) में 1.18 करोड़ परिवारों को 5 लाख तक का बीमा कवर दिया गया है। अटल बिहारी वाजपेयी चिकित्सा विश्वविद्यालय का निर्माण लखनऊ में कराया जा रहा है।

UP बीमारू राज्य से बाहर निकलने में कामयाब
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जनता का विश्वास और हमारे कार्यकर्ताओं की मेहनत थी कि सरकार पर कोई आरोप नहीं लगा। उन्होंने कहा कि जब उनके हाथ में सत्ता की बागडोर आयी थी जब प्रदेश बीमारू था। पिछली सरकारों ने प्रदेश को बदहाल कर दिया था। लेकिन आज यहां निवेशक हैं, प्रदेश और अन्य राज्यों के युवाओं का पलायन रोका गया वो अब उनको यहीं रोजगार दिया जा रहा है।

कहा कि महिलाएं सुरक्षित हुई हैं, किसानों की आए दोगुना हुई है। बुंदेलखंड जहां लोग पानी को तरसते थे वहां हर घर जल योजना के तहत पानी की व्यवस्था कराई गई। प्रदेश को हवाई मार्ग से जोड़ा जा रहा है। पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अयोध्या को एक बड़े पर्यटन हब के रूप में विकसित किया जा रहा है। हमारी सरकार जाति- धर्म देखकर किसी पर कोई कार्यवाही नहीं करती अपराधी-अपराधी होता है।

किसान और कृषि क्षेत्र में क्या-क्या हुआ

  • सरकार ने गन्ना किसानों का जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें 1.25 लाख करोड़ का भुगतान किया गया जो एक रिकॉर्ड है। 36 हज़ार करोड़ रुपए से 86 लाख किसानों का ऋण माफ करने का काम किया गया। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में 2.42 करोड़ किसानों के खाते में 27,134 करोड़ हुए भेजे गए।
  • एमएसपी में लगभग दोगुना तक कि वृद्धि जिसमें 66 हज़ार करोड़ से 378 लाख मीट्रिक टन खाद्यान्न की खरीदा गया।
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में 2 करोड़ 5 लाख किसान बीमित हुए। 21 लाख 64 हज़ार किसानों को 1,910 करोड़ की क्षतिपूर्ती दी गई।
  • मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना में खातेदार एवं सहखातेदार, किसान परिवारों के कमाऊ सदस्य तथा पट्टेदार/ बटाईदार को भी योजना का लाभ मिला।
  • वहीं 3 लाख 58 हज़ार करोड़ का फसल ऋण वितरण किया गया। साथ ही साथ रमाला, पिपराइच, मुंडेरवा चीनी मिलों सहित 20 चीनी मिलों का आधुनिकरण एवं विस्तारीकरण हुआ।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here