Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बलिया11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
मंत्री आनंद स्वरुप शुक्ला। - Dainik Bhaskar

मंत्री आनंद स्वरुप शुक्ला।

  • इससे पहले तीन मार्च को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति ने प्रशासन को लिखा था लेटर
  • उसके बाद BHU के एक स्टूडेंट ने UP पुलिस को किया था ट्वीट

उत्तर प्रदेश में प्रयागराज से शुरू हुआ अजान को लेकर विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। अब योगी सरकार में संसदीय कार्य एवं ग्राम्य विकास राज्यमंत्री आनंद स्वरुप शुक्ला ने भी लाउडस्पीकार से अजान पर ऐतराज जताया है। मंत्री ने कहा कि लाउडस्पीकर पर अजान के शोर के कारण उनके योग, ध्यान, पूजा पाठ व शासकीय कार्यों में बाधा पैदा होती है। उन्होंने बलिया के जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अधिक संख्या में लगे लाउस्पीकरों को हटाने की मांग की है।

मंत्री ने पत्र में लिखी ये बातें

पत्र में लिखा है कि बलिया में स्थित मस्जिदों में नमाज के दौरान अजान, दिन भर लाउडस्पीकर के माध्यम से धार्मिक प्रचार-प्रसार मस्जिद निर्माण के लिए चंदा एकत्र करने एवं विभिन्न प्रकार की सूचनाओं को अत्यधिक तेज आवाज में प्रसारित किया जाता है। जिससे छात्र-छात्राओं के पठन-पाठन एवं बच्चों, बुजुर्ग व बीमार लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। जनमानस को अत्यधिक ध्वनि प्रदूषण का भी सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने आगे लिखा है कि मेरे विधानसभा क्षेत्र में स्थित मदीना मस्जिद काजीपुर, थाना कोतवाली के समीप कई शैक्षणिक संस्थान हैं। जिसमें सेंट जोसेफ, महर्षि विद्या मंदिर, सतीश चंद्र महाविद्यालय आदि में अध्यनरत विद्यार्थियों को लाउडस्पीकर की तेज आवाज के कारण पठन-पाठन में व्यवधान उत्पन्न हो रहा है। मस्जिद में पांचों वक्त नमाज की अजान और सारा दिन अन्य सूचनाएं प्रसारित की जा रही है। जिससे होने वाले शोर के कारण मेरे योग, ध्यान, पूजा-पाठ व शासकीय कार्यों में व्यवधान उत्पन्न होता है। मंत्री ने सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों का भी पत्र में जिक्र किया है।

मंत्री ने डीएम से कहा है कि जिन मस्जिदों में परमीशन से ज्यादा लाउडस्पीकर लगे हैं, उन्हें तत्काल हटवाया जाए। साथ ही लाउडस्पीकर की आवाज को सीमित करवाते हुए गाइडलाइन का पालन कराया जाए।

मंत्री आनंद शुक्ला का लेटर।

मंत्री आनंद शुक्ला का लेटर।

AU की कुलपति ने लिखा था पत्र, BHU के स्टूडेंट ने भी विरोध में उठाई थी आवाज
दरअसल, इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव ने तीन मार्च को कमिश्नर संजय गोयल, IG कवींद्र प्रताप सिंह, जिलाधिकारी भानुचंद गोस्वामी और SSP सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी को पत्र लिखकर कहा था कि मस्जिद में होने वाली अजान की वजह से उनकी नींद खराब हो रही है लिहाजा इसको बंद करवाया जाए। इसके बाद मस्जिद कमेटी ने मीनार पर लगे लाउडस्पीकर का रुख VC संगीता श्रीवास्तव के घर से दूसरी तरफ कर दिया था। लाउडस्पीकर का वॉल्यूम भी कम कर दिया गया था। इसके बाद वाराणसी में भदैनी इलाके में किराए के मकान में रहने वाले BHU के छात्र करुणेश पांडेय ने वाराणसी पुलिस को ट्वीट कर शिकायत की है कि बगल में मस्जिद लाउडस्पीकर की आवाज से मानसिक अवरोध उत्पन्न होता है।

10 महीने पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा था- बिना अनुमति लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करना गलत
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 10 महीने पहले अपने एक फैसले में कहा था कि मस्जिदों में लाउडस्पीकर से अजान इस्लाम का हिस्सा नहीं है। किसी भी मस्जिद से लाउडस्पीकर से अजान दूसरे लोगों के अधिकारों में हस्तक्षेप करना है। कोर्ट ने कहा- जिन मस्जिदों के पास लाउडस्पीकर की अनुमति है, वही इसका इस्तेमाल करें। बिना प्रशासन की अनुमति के लाउडस्पीकर से अजान न दें।

ये भी पढ़िए..

लाउडस्पीकर के शोर को लेकर कुलपति ने की शिकायत:मस्जिद में होने वाली अजान से AU के कुलपति की नींद में पड़ रही खलल, DM से कार्रवाई की मांग

इलाहाबाद यूनिवर्सिटी की VC के बाद IG का पत्र:मंडल के चारों जिलों में अब रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक लाउडस्पीकर बजाने पर रहेगी पाबंदी

अजान पर राजनीति:अजान की तुलना आरती से कर विवादों में फंसे शिवसेना नेता, भाजपा बोली- सत्ता के लिए हिंदुत्व की दी तिलांजलि

अजान पर सियासत:अलीगढ़ भाजपा सांसद सतीश गौतम बोले- मंदिरों में नहीं बज रहे घंटे, मंस्जिदों में अजान के लिए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल हो बंद

सुखद:लाउड स्पीकर से मस्जिद से अजान और मंदिर से भजन के सुर गूंजते हैं, अब उनसे ही बच्चों को पढ़ा रहे शिक्षक

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here