कॉन्सेप्ट इमेज.

कॉन्सेप्ट इमेज.

पेंटागन ने बताया कि अमेरिका (America) 159 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तैयार कर रही है. इन्हें वाणिज्यिक उड़ान के जरिए 17 मई को भारत (India) रवाना किया जाएगा.

वाशिंगटन. पेंटागन की ओर से बताया गया कि अमेरिका (America) के रक्षा बल अगले हफ्ते वाणिज्यिक उड़ान के माध्यम से भारत में 159 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर (Oxygen Concentrators) भेजने की तैयारी कर रहे हैं. पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने बृहस्पतिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘रक्षा संसाधन एजेंसी त्राविस एयरफोर्स बेस पर 159 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तैयार कर रही है. इन्हें वाणिज्यिक उड़ान के जरिए सोमवार यानी 17 मई को भारत रवाना किया जाएगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित ही हम भारत सरकार में अपने सहयोगियों के साथ करीबी संपर्क में बने हुए हैं ताकि उन्हें हर वो सहायता दे सकें जिसकी उन्हें आवश्यकता है.’’ किर्बी ने कहा कि रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन भी चाहते हैं कि पेंटागन भारत के नेताओं के साथ समन्वय बनाकर और उनसे परामर्श कर उनकी हर संभव मदद करे. वहीं दूसरी तरफ, अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू ने कहा कि भारत की कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में भारतीय-अमेरिकी देश के सहयोग में महत्वपूर्ण स्तंभ रहे हैं. संधू ने प्रख्यात भारतीय-अमेरिकी व्यक्तियों के साथ बृहस्पतिवार को ऑनलाइन वार्ता की और उनके समर्थन की सराहना की. संधू ने बैठक के बाद ट्वीट किया, ‘‘ अमेरिका में भारतीय-अमेरिकी समुदाय के नेताओं से आज दोहपर बातचीत की. अमेरिका में ये प्रवासी वैश्विक महामारी के खिलाफ हमारी लड़ाई में समर्थन का मजबूत स्तंभ रहे हैं. उनके प्रयासों की सराहना करता हूं.’’ भारत की मौजूदा आवश्यकताओं के बारे में जानकारी दी उन्होंने कहा कि इस स्तर पर मदद करना भारत-अमेरिकी साझेदारी की मजबूती को दर्शाता है. साथ ही बैठक में उन्होंने प्रतिनिधियों को वैश्विक महामारी से निपटने की दिशा में भारत की मौजूदा आवश्यकताओं के बारे में जानकारी दी. राजदूत ने आश्वासन दिया कि दूतावास और वाणिज्य दूतावास समुदाय की सहायता की पेशकशों को सुविधाजनक बनाने और उन्हें दिशा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं. इस दौरान समुदाय के कई नेताओं ने योगदान के उनके प्रयासों को रेखांकित किया.

भारत की मदद के लिए आगे आए भारतीय-अमेरिकी संगठन भारतीय-अमेरिकी संगठनों ने कोविड-19 से निपटने में भारत की मदद करने के लिए लाखों डॉलर एकत्रित किए हैं. ‘अमेरिकन इंडिया फाउंडेशन’ ने 2.5 करोड़ डॉलर, ‘सेवा इंटरनेशनल’ ने 1.7 करोड़ डॉलर और ‘इंडियास्पोरा’ ने 25 लाख डॉलर एकत्र किए. वहीं डलास स्थित ‘यूएस इंडिया चैंबर ऑफ कॉमर्स’ ने बृहस्पतिवार को 115 वेंटिलेटर और 800 ऑक्सीजन सांद्रक भी भारत भेजे. उसने अभी तक भारत की मदद के लिए 12 लाख डॉलर एकत्रित किए हैं. संधू के साथ बैठक में ‘चैंबर’ के संस्थापक अध्यक्ष अशोक मागो ने कहा, ‘‘ भारत में स्थिति बेहद खतरनाक है. हालांकि भारत और भारत के लोग इससे उबर रहे हैं और हम सभी के सहयोग से जल्द ही वे बेहतर दिन देखेंगे.’’
ये भी पढ़ें: अमेरिका को बड़ी राहत, कोरोना वैक्सीन लगवा चुके लोग बिना मास्क निकल सकते हैं बाहर ‘हेल्प इंडिया डिफीट कोविड-19’ वहीं, ‘सेवा इंटरनेशनल’ के अध्यक्ष अरुण कनकानी ने कहा, ‘‘हमारे ‘हेल्प इंडिया डिफीट कोविड-19’ अभियान को सभी अमेरिकियों से बेहतरीन प्रतिक्रिया मिली है. कई संगठन, अस्पताल और सामुदायिक संगठन मदद करने के लिए काम कर रहे हैं. सेवा के स्वयंसेवक कड़ी मेहनत कर रहे हैं.’’ टेनेसी के जाने-माने भारतीय-अमेरिकी हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. इंद्रनील बसु राउ ने भारत 250 ‘को-वेंटिलेटर’ भेजे हैं. वहीं, 660 और ‘को-वेंटिलेटर’ की अगली खेप को भेजने की तैयारी जारी है.









Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here