prayagraj news : एसआरएन में मरीज को भर्ती कराने लेकर आते परिजन।
– फोटो : prayagraj

ख़बर सुनें

कोरोना का कहर अब शहर के मुकाबले ग्रामीण इलाकों में बढ़ता जा रहा है। शनिवार को 24 घंटे में मिले नए संक्रमितों में 30 फीसदी मरीज ग्रामीण इलाके में ही पाए गए। जबकि पांच दिन पहले यह अनुपात 85 और 15 फीसदी का था। कोरोना के नोडल ऑफिसर डॉ. ऋषि सहाय ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि शनिवार को 1145 नए संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही 23 लोगों की मौत हो गई है। 

डॉ. सहाय ने बताया कि 23 दिनों के बाद संक्रमितों की संख्या 1150 के नीचे आई है। जबकि एक दिन पहले के मुकाबले यह 244 कम है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को कुल 13339 लोगों की कोरोना की जांच कराई गई है। इसमें से 1145 संक्रमित मिले हैं। इसके पहले आठ अप्रैल को एक दिन में 1129 संक्रमित मिले थे। उसके बाद कोरोना संक्रमितों की संख्या में तेजी से उछाल आया था जो लगातार दो हफ्ते तक जारी रहा। पिछले लॉकडाउन के दिनों से इसमें गिरावट आनी शुरू हुई जो अभी जारी है।

इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग की ओर से जांच की संख्या भी पहले के मुकाबले बढ़ा दी है। इससे संक्रमित जल्दी ट्रेस हो रहे हैं। एसीएमओ डॉ. सत्येंद्र राय ने बताया कि अप्रैल के पहले सप्ताह तक मोबाइल मेडिकल यूनिट की संख्या दो दर्जन के आसपास थी लेकिन 15 दिनों में इसमें छह गुना की बढ़ोत्तरी की गई है। अब तकरीबन 91 टीमें काम कर रही हैं। इनका काम संक्रमित मरीजों के इलाके में जाना और संपर्क में आने वालों की जांच करना है। इसी वजह से जांच की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। 

1769 हुए संक्रमण मुक्त, 73 को हॉस्पिटल से मिली छुट्टी

शनिवार को मिलने वाले नए संक्रमितों के मुकाबले संक्रमण मुक्त होेने वालों की संख्या 624 अधिक रही। इसमें से 73 लोगों को स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय, बेली, रेलवे हॉस्पिटल सहित निजी अस्पतालों से छुट्टी दी गई है। जबकि 1696 को होम आइसोलेशन पूरा हुआ है। इससे होम आइसोलेशन पूरा करने वालों की कुल संख्या बढ़कर 49635 हो चुकी है। अस्पतालों से जिन संक्रमितों की रिपोर्ट निगेटिव आई, उनकी जगह पर दूसरे नए मरीजों को भर्ती किया गया। 

प्रोफेसर, इंस्पेक्टर, अधिवक्ता सहित कई शिक्षक हुए संक्रमित

शनिवार को राज्य विश्वविद्यालय के अर्थशास्त्र विभाग के प्रोफेसर, रेलवे जीएमआर प्रोजेक्ट के इंजीनियर, सीआरपीएफ इंस्पेक्टर, पीडब्ल्यूडी के इंजीनियर, मउआइमा पंजाब नेशनल बैंक के विंडो ऑपरेटर, फाफामउ, मांडा, रामगढ़ प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक, हाईकोर्ट के सेक्शन ऑफिसर, गोविंदपुर स्थित एसबीआई के मैनेजर, रेलवे के डिप्टी चीफ सिग्नल ऑफिसर संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा एजी ऑफिस के ऑडिटर, शंकरगढ़ बैंक ऑफ बड़ौदा के एकाउंटेंट, रेलवे के डिप्टी सीपीओ, लोकोपॉयलट, सीआरपीएफ के कांस्टेबल, आरपीएफ इंस्पेक्टर, एमईएस के जेई, राजकीय विद्यालय के दो शिक्षक, आईआरएस ऑफिस के एकाउंट ऑफिसर, हाईकोर्ट के तीन अधिवक्ता, पीडब्ल्यूड का क्लर्क, जसरा ब्लॉक के एक गांव का प्रधान, एनटीपीसी के मैनेजर संक्रमित पाए गए हैं।

विस्तार

कोरोना का कहर अब शहर के मुकाबले ग्रामीण इलाकों में बढ़ता जा रहा है। शनिवार को 24 घंटे में मिले नए संक्रमितों में 30 फीसदी मरीज ग्रामीण इलाके में ही पाए गए। जबकि पांच दिन पहले यह अनुपात 85 और 15 फीसदी का था। कोरोना के नोडल ऑफिसर डॉ. ऋषि सहाय ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि शनिवार को 1145 नए संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही 23 लोगों की मौत हो गई है। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here