[ad_1]

अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज
Updated Sun, 20 Dec 2020 01:07 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

सरायइनायत थाना क्षेत्र के लीलापुर खुर्द गांव में शनिवार को ग्रामसभा की जमीन पर प्रस्तावित अस्पताल के निर्माण पर कब्जा कर रहे दबंगों का विरोध करना हल्का लेखपाल और प्रधान को भारी पड़ गया। दबंगों ने लेखपाल और ग्रामप प्रधान पर जानलेवा हमला कर दिया जिसमें दोनों जख्मी हो गए। किसी तरह दोनों ने वहां से भागकर अपनी जान बचाई। बाद में आरोपियों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी गई लेकिन देर शाम तक रिपोर्ट नहीं दर्ज की जा सकी थी। घटना से गांव की बस्ती में काफी देर तक अफरा-तफरी मची रही। 

थाना क्षेत्र के लीलापुर खुर्द गांव में ग्राम सभा की जमीन पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनना प्रस्तावित है। शनिवार की सुबह गांव के कुछ दबंग वहां पहुंचे तथा ग्रामसभा की जमीन पर कब्जा करने लगे। इस बात की जानकारी ग्राम प्रधान कमलेश कुमार उपाध्याय को हुई तो उन्होंने एसडीएम फूलपुर युवराज सिंह को फोन पर कब्जे की जानकारी दी। एसडीएम के निर्देश पर हल्का लेखपाल विनोद कुमार सरकारी जमीन पर हो रहे अवैध कब्जे और निर्माण को रोकने ग्राम प्रधान के साथ मौके पर पहुंचे तथा निर्माण कार्य रोकने को कहा।

इस पर दबंगों ने लेखपाल से जाति सूचक शब्द का भी प्रयोग करते हुए गालीगलौज की। यही नहीं लाठी-डंडे से लेखपाल और प्रधान पर हमला कर दिया। दोनों को जान से मारने की भी धमकी दी गई। दबंगो के हमले में लेखपाल और प्रधान दोनों जख्मी हो गए। लेखपाल ने अपने साथ हुई मारपीट की सूचना एसडीएम को दी। एसडीएम के निर्देश पर इलाकाई पुलिस मौके पर पहुंची। हालांकि तब तक दबंग मौके से फरार हो गए थे।

लेखपाल विनोद कुुमार ने तीन नामजद तथा तीन अज्ञात व ग्राम प्रधान कमलेश कुमार उपाध्याय ने कई लोगों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। देर शाम तक रिपोर्ट नहीं दर्ज की जा सकी थी। पुलिस ने दोनों को उपचार के लिए सीएचसी बनी में भर्ती कराया है। घटना से गांव की बस्ती में काफी देर तक अफरा-तफरी मची रही। 

सरायइनायत थाना क्षेत्र के लीलापुर खुर्द गांव में शनिवार को ग्रामसभा की जमीन पर प्रस्तावित अस्पताल के निर्माण पर कब्जा कर रहे दबंगों का विरोध करना हल्का लेखपाल और प्रधान को भारी पड़ गया। दबंगों ने लेखपाल और ग्रामप प्रधान पर जानलेवा हमला कर दिया जिसमें दोनों जख्मी हो गए। किसी तरह दोनों ने वहां से भागकर अपनी जान बचाई। बाद में आरोपियों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी गई लेकिन देर शाम तक रिपोर्ट नहीं दर्ज की जा सकी थी। घटना से गांव की बस्ती में काफी देर तक अफरा-तफरी मची रही। 

थाना क्षेत्र के लीलापुर खुर्द गांव में ग्राम सभा की जमीन पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बनना प्रस्तावित है। शनिवार की सुबह गांव के कुछ दबंग वहां पहुंचे तथा ग्रामसभा की जमीन पर कब्जा करने लगे। इस बात की जानकारी ग्राम प्रधान कमलेश कुमार उपाध्याय को हुई तो उन्होंने एसडीएम फूलपुर युवराज सिंह को फोन पर कब्जे की जानकारी दी। एसडीएम के निर्देश पर हल्का लेखपाल विनोद कुमार सरकारी जमीन पर हो रहे अवैध कब्जे और निर्माण को रोकने ग्राम प्रधान के साथ मौके पर पहुंचे तथा निर्माण कार्य रोकने को कहा।

इस पर दबंगों ने लेखपाल से जाति सूचक शब्द का भी प्रयोग करते हुए गालीगलौज की। यही नहीं लाठी-डंडे से लेखपाल और प्रधान पर हमला कर दिया। दोनों को जान से मारने की भी धमकी दी गई। दबंगो के हमले में लेखपाल और प्रधान दोनों जख्मी हो गए। लेखपाल ने अपने साथ हुई मारपीट की सूचना एसडीएम को दी। एसडीएम के निर्देश पर इलाकाई पुलिस मौके पर पहुंची। हालांकि तब तक दबंग मौके से फरार हो गए थे।

लेखपाल विनोद कुुमार ने तीन नामजद तथा तीन अज्ञात व ग्राम प्रधान कमलेश कुमार उपाध्याय ने कई लोगों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है। देर शाम तक रिपोर्ट नहीं दर्ज की जा सकी थी। पुलिस ने दोनों को उपचार के लिए सीएचसी बनी में भर्ती कराया है। घटना से गांव की बस्ती में काफी देर तक अफरा-तफरी मची रही। 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here