• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • Even After Getting The Information, The Police Was Not Able To Arrest, As Soon As The Mobile Was On, The Police Caught Three Smugglers With 35 Kg Of Ganja.

कानपुर14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश में शातिर गांजा तस्करों ने कानुपर पुलिस को छका दिया। नाम, मोबाइल नंबर समेत कई अहम जानकारी मिलने के बाद भी पुलिस तस्करों को दबोच नहीं पा रही थी। इसके पीछे वजह थी की शातिर बाइक से गांजा की तस्करी करते थे और पुलिस लोकेशन न ट्रेस कर ले इसके चलते मोबाइल बंद रखते थे। जरूरत पड़ने पर ऑन करके कॉल करते और फिर स्विच ऑफ कर लेते थे।

तस्करों ने एक कुछ देर मोबाइल ऑन करने की गलती की और पुलिस ने लोकेशन ट्रैक करके तीन तस्करों को दबोच लिया। तलाशी में तीनों के पास बैग से 35 किलो गांजा बरामद हुआ। फतेहपुर से कानपुर गांजा ला रहे थे। पूछताछ के बाद तीनों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करके जेल भेज दिया गया।

फतेहपुर से ला रहे थे गांजा, लोकेशन मिलते ही तीनों को दबोचा
बर्रा थाना प्रभारी हरमीत सिंह ने बताया कि हमीरपुर मौदहा निवासी तीन युवक नसीमुद्दीन, कमालुद्दीन और आशीर्वाद सिंह मिलकर कानपुर में गांजा बेच रहे थे। मोबाइल लोकेशन के आधार पर बर्रा के मुन्ना तिराहा से बाइक सवार तीनों तस्करों को पुलिस ने दबोच लिया। तीनों बैग भी लिए हुए थे।

तलाशी में तीनों के बैग से 35 किलो गांजा बरामद हुआ। बताया कि तीनों होलसेल में गांजा सप्लाई शहर में करते हैं। फतेहपुर के तस्कर से खरीदकर कानपुर में सप्लाई कर रहे थे। फोन बंद रखने के चलते पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पा रही थी।

इंटरनेट कॉल पर डीलिंग, एडवांस पेमेंट पर होम डिलीवरी
पूछताछ में पकड़े गए युवकों ने बताया कि उनके नेटवर्क में शहर में फुटकर में गांजा बेचने वाले तस्कर हैं। व्हाट्सएप या अन्य माध्ययम से इंटरनेट कॉलिंग पर डीलिंग करते थे। इसके बाद एडवांस पेमेंट करके ऑर्डर देने वालों को होम डिलीवरी करते थे। लॉकडाउन के दौरान गांजा की जबरदस्त खपत हुई और किसी को शक भी नहीं हुआ।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here