महामारी से दुनिया को बाहर निकालने के लिए सभी से मदद की जरूरत: आईएमएफ प्रमुख

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) की प्रमुख क्रिस्टलीन जार्जीएवा (फाइल फोटो).

नई दिल्ली/दावोस:

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) की प्रमुख क्रिस्टलीन जार्जीएवा ने कोविड-19 महामारी के कारण बढ़ती असामानता पर चिंता जताई और कहा कि सतत और संतुलित पुनरूद्धार के लिए हर किसी का चाहे वह कंपनी हो या फिर सरकार अथवा केंद्रीय बैंक सभी की मदद की जरूरत है. विश्व आर्थिक मंच की ‘ऑनलाइन’ दावोस एजेंडा शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि मुद्राकोष ने 2021 के लिए वैश्विक वृद्धि दर 5.5 प्रतिशत रहने का अनुमान जताया है जो पूर्व के अनुमान के मुकाबले अधिक है.

यह भी पढ़ें

आईएमएफ प्रमुख ने निम्न आय वर्ग की श्रेणी में आने वाले देशों की मदद के लिये कदम उठाने का भी आह्वान किया है.

Newsbeep

उन्होंने एक परिचर्चा में कहा कि बड़े देशों ने संकट के दौरान उससे निपटने के लिये जीडीपी के 20 प्रतिशत तक की मदद प्रदान की जबकि गरीब देशों में यह उनके जीडीपी का केवल 2 प्रतिशत रहा. और उनका जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) का आकार भी छोटा है. यह परेशान करने वाला है.

जीर्जीएवा ने कहा कि सतत और संतुलित पुनरूद्धार के लिये हर किसी का चाहे वह कंपनी हो या फिर सरकार अथवा केंद्रीय बैंक सभी की मदद की जरूरत है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here