कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलित किसानों के समर्थन में दिल्ली कूच करेंगे महाराष्ट्र के किसान

Maharashtra Farmers March : कारपोरेट दफ्तरों के बाहर महाराष्ट्र के मंत्री करेंगे प्रदर्शन (प्रतीकात्मक)

मुंबई:

महाराष्ट्र के किसानों (Farmers of Maharashtra) ने किसान आंदोलन के समर्थन में दिल्ली कूच (Delhi Chalo) करने का ऐलान किया है. किसान नेता अजित नवले का कहना है कि 21 दिसंबर को महाराष्ट्र से बड़ी तादाद में किसान दिल्ली जाकर कानून का विरोध करेंगे.दरअसल, कृषि कानून (Farm laws) के खिलाफ लगातार जारी प्रदर्शन को जहां केवल पंजाब और हरियाणा के किसानों का प्रदर्शन माना जा रहा है लेकिन अब दूसरे राज्यों से बड़े पैमाने में किसान इससे जुटते नज़र आ रहे हैं. महाराष्ट्र से बड़ी तादाद में किसान 21 दिसंबर को दिल्ली की ओर रवाना होंगे.

यह भी पढ़ें

कृषि कानून के खिलाफ जारी किसानों के आंदोलन (Farmers protest) के समर्थन में मुम्बई के दादर इलाके में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं. इनकी भी मांग है कि नए कृषि कानून को वापस लिया जाए और सरकार किसानों से पहले बात करे.अजित नवले ने कहा कि दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में 21 तारीख को किसान सभा के अंतर्गत हज़ारों किसान अपने अपने गाड़ियों के ज़रिए दिल्ली पहुंचेंगे. 21 जिलों के किसान इसमें शामिल होंगे.

Newsbeep

हम भारत के लोग संस्था के सदस्य फिरोज़ मिठिबोरवाला ने कहा कि आंदोलन कहीं एक राज्य से शुरू होता है और वो शुरू हो चुका है. इस आंदोलन में देशभर के 500 संगठन जुड़े हुए हैं. सभी मिलकर लड़ रहे हैं. सभी राज्यों के किसान पीड़ित हैं, खासतौर पर महाराष्ट्र के किसान भी इसका हिस्सा हैं.

अंबानी के कार्यालयों के बाहर प्रदर्शन

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) में शामिल तीनों पार्टियाँ जहाँ किसानों का समर्थन करती नज़र आ रही हैं तो वहीं अब कैबिनेट मंत्री बच्चू कडू ने किसानों के समर्थन में कॉरपोरेट दफ्तरों पर प्रदर्शन करने का ऐलान किया है. महाराष्ट्र सरकार के कैबिनेट मंत्री बच्चू कडू ने कहा कि किसानों के समर्थन में 22 तारीख को हम सभी अंबानी के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करेंगे, जब तक किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) नहीं मिल जाता, उन्हें आज़ादी नहीं मिलेगी.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here