Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गोरखपुर12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
दूल्हे के घर मातम है। वहीं, लड़की के घर में भी मायूसी छा गई है।  - Dainik Bhaskar

दूल्हे के घर मातम है। वहीं, लड़की के घर में भी मायूसी छा गई है। 

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में एक बेहद मार्मिक मामला सामने आया है। यहां यहां पीपीगंज इलाके के एक गांव के पूर्व प्रधान के इकलौते बेटे की कोरोना से मौत हो गई। उसकी आज बारात जानी थी। ऐसे में सेहरा सजने से पहले दूल्हे की अर्थी उठ गई। दूल्हे के घर मातम है। वहीं, लड़की के घर में भी मायूसी छा गई है।

तिलकोत्सव के बाद बिगड़ी थी हालत
पीपीगंज थाना क्षेत्र के रामुघाट गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह के इकलौते बेटे विक्रांत उर्फ प्रशांत सिंह की 26 अप्रैल को तिलक कार्यक्रम सम्पन्न हुआ था। तिलक के कुछ दिन बाद ही विक्रांत की अचानक तबियत बिगड़ गई। जिसके बाद परिजनों ने उसे आनन-फानन में गोरखपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। आशंका है कि तिलक कार्यक्रम में वह किसी कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने से कोविड-19 पॉजिटिव हुआ था।

उधर, परिजनों ने बताया कि विक्रांत के हालत में काफी सुधार होने लगा था। गुरुवार को डॉक्टर विक्रांत को डिस्चार्ज करने वाले थे कि उसके पहले ही मौत हो गई। देखते ही देखते शादी का घर मातम में बदल गया। बेटे के सिर पर सेहरा सजने से पहले ही उसकी अर्थी उठ गई। इससे पूरे गांव में मातम का माहौल है। संवेदना व्यक्त करने के लिए काफी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं।

आज बहराइच जानी थी बारात
पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह के इकलौते बेटे प्रशांत की शादी बहराइच जिले की लड़की के साथ तय हुई थी। आज उसकी बारात जानी थी। बारात को लेकर सभी तैयारियां कर ली गई थी। लेकिन अब परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here