Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गोरखपुर7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
पुलिस टीम माफिया को गिरफ्तार करने सहजनवां इलाके के कालेसर पहुंची, लौटना पड़ा बैंरग। - Dainik Bhaskar

पुलिस टीम माफिया को गिरफ्तार करने सहजनवां इलाके के कालेसर पहुंची, लौटना पड़ा बैंरग।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में आतंक का पर्याय बन चुका निवर्तमान ब्‍लाक प्रमुख व जिला बदर माफिया सुधीर सिंह पर पुलिस का शिकंजा कसता हुआ नजर आ रहा है। पंचायत चुनाव में पत्नी अंजू सिंह का पर्चा खारिज होने के बाद एक बार फिर माफिया ने जिले में अपनी दस्तक देकर पुलिस को चुनौती दी है। सूचना मिलते ही पुलिस सक्रिय हो गई।

दो लग्जरी फॉर्च्यूनर गाड़ियां जब्त
पुलिस भारी फोर्स के साथ पुलिस टीम माफिया को गिरफ्तार करने सहजनवां इलाके के कालेसर पहुंच गई, लेकिन बताया जा रहा है कि उसने हाईकोर्ट से अरेस्ट स्टे ले रखा था। लिहाजा पुलिस को बैरंग ही लौटना पड़ा। हालांकि, इस दौरान पुलिस ने उसकी दो लग्जरी फॉर्च्यूनर गाड़ियों को जब्त किया है। वहीं, पुलिस माफिया सुधीर के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करने की तैयारी भी कर रही है।

चचेरी बहन की शादी में पहुंचा था माफिया
बताया जा रहा है कि बीते 21 मई को सहजनवां इलाके के कालेसर स्थित माफिया सुधीर के आवास पर चाचा टप्पू सिंह के बेटी की शादी थी। समारोह में जिला बदर माफिया सुधीर भी पहुंचा था। इस बीच इसकी सूचना पुलिस को लग गई। भारी फोर्स के साथ पुलिस वहां गिरफ्तारी के लिए पहुंची, लेकिन माफिया के पास हाईकोर्ट का अरेस्ट स्टे होने की वजह से उसे गिरफ्तार नहीं किया जा सका। हालांकि, इस दौरान पुलिस ने उसकी दो लग्जरी फॉर्च्यूनर गाड़ियों को जब्त कर दिया। एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने बताया कि सुधीर सिंह की दो गाड़ियों को धारा 4/1 के तहत सहजनवां थाने में जब्त किया गया है। उसके खिलाफ आगे की कार्रवाई की तैयारी की जा रही है।

पंचायत चुनाव में पत्नी का पर्चा हुआ था खारिज
पंचायत चुनाव में जिला बदर माफिया सुधीर सिंह ने पत्नी अंजू सिंह के नाम पर्चा भरवाया था। जिला प्रशासन ने पर्चा निरस्‍त करने की कार्रवाई की थी। दरअसल, माफिया सुधीर सिंह पर दिसंबर 2020 में गुंडा एक्ट की कार्रवाई की गई थी। इसके बाद छह महीने के लिए उसे जिला बदर कर दिया गया।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here