[ad_1]

ग्रहों की स्थिति-मंगल मेष राशि में हैं। राहु वृषभ राशि में हैं। शुक्र सिंह राशि में हैं।सूर्य कन्‍या राशि में हैं। बुध तुला राशि में हैं। केतु वृश्चिक राशि में हैं। गुरु धनु राशि में हैं। शनि मकर राशि और चंद्रमा कुंभ राशि में हैं। अद्भुत दिन है। गुरु मार्गी हो चुके हैं पहले से। शनि भी मार्गी हो गए। गुरु, शनि स्‍वग्रही, बुध मित्रक्षेत्री, मंगल स्‍वग्रही लेकिन वक्री हैं। यह जनमानस के लिए अच्‍छा संयोग है। बहुत सारी चीजें सुधरेंगी। हमारे लिए कुछ अच्‍छा ही होगा। थोड़ा कठिनाइयों के साथ कुछ मिलता है तो लोगों का मन जरूर थोड़ा खराब हो जाता है लेकिन मिलेगा बढ़चढ़कर। ग्रहों की स्थिति बहुत अच्‍छी हो चुकी है। चूंकि गुरु और शनि बड़े ग्रह हैं बहुत दिनों तक किसी घर में रहते हैं इनका लाभ या हानि बहुत दिनों तक मिलता है लेकिन स्‍वग्रही या उच्‍च का कोई भी ग्रह हानि नहीं करता है। जनमानस के लिए अच्‍छा ही होता है।

राशिफल-
मेष-लाभ बना रहेगा। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम है। प्रेम और व्‍यापार अद्भुत हो गया है। बहुत अच्‍छी स्थिति हो चुकी है आपकी। केवल अपने स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। बाकी सब ठीक चल रहा है। बजरंग बली की अराधना करें। लाल वस्‍तु पास रखें।

Shani Margi 2020: कल से शनि चलेंगे सीधी चाल, इन राशि वालों को शनि के प्रभावों से मिलेगी राहत

वृषभ-शासन सत्‍ता पक्ष का पूरा सहयोग मिलेगा। उच्‍चाधिकारी प्रसन्‍न होंगे। कोर्ट-कचहरी में विजय मिलेगी। स्‍वास्‍थ्‍य,व्‍यापार,प्रेम अच्‍छा है। अद्भुत समय है। शनिदेव की अराधना करें।

 

मिथुन-कोर्ट-कचहरी में विजय के संकेत हैं। उच्‍चाधिकारी प्रसन्‍न होंगे। नौकरी-चाकरी में इजाफा होगा। हर दृष्टिकोण से अच्‍छा समय दिख रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम,व्‍यापार सब अच्‍छा दिख रहा है। गणेश जी की अराधना करें।

Shani Margi 2020: राहु-केतु के बाद शनि 29 सितंबर से बदलेंगे चाल, 5 राशियों की बढ़ेगी परेशानी

कर्क-अभी आपके लिए बहुत अच्‍छा समय नहीं है। थोड़ा कठिन समय है। बचकर पार करें। आने वाले दिन आपके हैं। नीली वस्‍तुओं का दान करें। भगवान शिव की अराधना करें।

सिंह-जीवनसाथी का सहयोग मिलेगा।रोजी-रोजगार में तरक्‍की करेंगे। स्‍वास्‍थ्‍य,प्रेम,व्‍यापार सब बहुत अच्‍छा है। नीली वस्‍तु का दान करें। पीली वस्‍तु पास रखें।

कन्‍या-विरोधी परास्‍त होंगे। स्‍वास्‍थ्‍य लाभ होगा। प्रेम बहुत अच्‍छी स्थिति में आ गया है। निर्णय लेने की क्षमता बहुत अच्‍छी हो गई है। स्‍वास्‍थ्‍य, प्रेम,व्‍यापार सब बहुत अच्‍छा चल रहा है।शनिदेव की अराधना करें।

तुला-भावनाओं में बहकर कोई निर्णय न लें। तू-तू,मैं-मैं से बचें। स्‍वास्‍थ्‍य,प्रेम,व्‍यापार अच्‍छी स्थिति में आता जा रहा है। शनिदेव को प्रणाम करें। उनमें आस्‍था रखें। निश्चित लाभ मिलेगा।

वृश्चिक-भूमि,भवन,वाहन की खरीदारी सम्‍भव है। भाग्‍यवश कोई काम बनेगा। प्रेम की स्थिति अच्‍छी है।विद्यार्थियों के लिए अच्‍छा है। बस स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान देना न भूलें। लाल वस्‍तु पास रखें।

धनु-किया गया पुरुषार्थ सार्थक होगा। योजनाओं को कार्यरूप दें। स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा है। प्रेम मध्‍यम है। व्‍यापार ठीक चलने लगा है। बजरंग बाण का पाठ करें।

मकर-स्‍वास्‍थ्‍य को लेकर समस्‍याएं खत्‍म हो रही है। स्‍वास्‍थ्‍य,प्रेम,व्‍यापार सबकुछ बहुत बढि़या स्थिति में आ चुका है। नीली वस्‍तु पास रखें। मां काली की अराधना करें।

कुंभ-सितारों की तरह चम‍कते जा रहे हैं। हर तरह से आपका कद बढ़ रहा है। अच्‍छी स्थिति है। स्‍वास्‍थ्‍य में सुधार शुरू हो गया। प्रेम,व्‍यापार अच्‍छा चल रहा है। गणेश जी की वंदना करें।

मीन-चिंताकारी सृष्टि का सृजन हो रहा है। आज के दिन थोड़ा बचाकर चलें। बाकी सब ठीक ठाक है। प्रेम में थोड़ी दूरी है। व्‍यापार और स्‍वास्‍थ्‍य ठीक-ठाक चल रहा है। पीली वस्‍तु पास रखें।

प्रस्‍तुति-
अजय कुमार सिंह
गोरखपुर। 
 

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here