[ad_1]

लखनऊएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बिहार विधानसभा चुनाव में आरजेडी के उम्मीदवारों का समर्थन करने का निर्णय लिया है। फाइल फोटो

  • पिछले विधानसभा चुनाव में बने महागठबंधन में सपा के लिए छोड़ी गई थी पांच सीटें
  • इस बार समाजवादी पार्टी ने आरजेडी के उम्मीदवारों को समर्थन देने का फैसला किया है

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी ने बड़ा ऐलान किया है। समाजवादी पार्टी ने बिहार चुनाव में राष्ट्रीय जनता दल के उम्मीदवारों को समर्थन देने का ऐलान किया है। समाजवादी पार्टी ने ट्वीट कर यह जानकारी दी है। सपा के टि्वट में कहा गया है कि आगामी बिहार विधानसभा चुनावों में समाजवादी पार्टी किसी भी पार्टी से गठबंधन ना करते हुए राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी)के उम्मीदवारों का समर्थन करेगी।

सपा के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने कहा कि सभी चाहते हैं कि बिहार में जिस तरह से नफरत की राजनीति चल रही है उस पर लगाम लगाई जाए। भारतीय जनता पार्टी और जेडीयू बेरोजगारों को रोजगार नहीं दे रही हैं। जिस तरीके से अपराध हो रहा है, किसान विरोधी बिल पास हो रहा, किसान परेशान हो रहा है। हम भी चाहते हैं कि बिहार में युवाओं की बात हो, उनको रोजगार की बात हो, इसलिए हम आरजेडी के साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे।

दरअसल मुलायम सिंह और लालू यादव रिश्ते में समधी हैं। लालू यादव की छोटी बेटी राज लक्ष्मी की शादी मुलायम सिंह के पोते (मुलायम के बड़े भाई का पोता) तेज प्रताप सिंह यादव से हुई है। पिछले विधानसभा चुनाव में बने महागठबंधन में लालू यादव ने सपा के लिए पांच सीटें छोड़ने का ऐलान किया था।

सपा के फैसले से आरजेडी को मिलेगी राहत

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस और कुछ अन्य दलों का महागठबंधन है। ऐसे में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पार्टी का राष्ट्रीय जनता दल को समर्थन देना महागठबंधन के लिए एक अच्छा संकेत है। हालांकि बिहार की राजनीति में समाजवादी पार्टी का प्रभाव उतना नहीं है। फिर भी समाजवादी पार्टी कुछ न कुछ फायदा जरूर पहुंचा सकती है।

0



[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here