अमर उजाला नेटवर्क, प्रयागराज
Published by: विनोद सिंह
Updated Mon, 05 Apr 2021 12:44 AM IST

ख़बर सुनें

निर्दलीय प्रत्याशी ने जबरन कांग्रेस का प्रत्याशी बनाए जाने से आहत होकर थाने में तहरीर दी है। उसने कहा कि वह निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में जिला पंचायत सदस्य पद का प्रत्याशी है। उसे जबरन तरीके से कांग्रेस का उम्मीदवार घोषित कर दिया गया है। उसने कांग्रेस प्रत्याशी बनने के लिए न तो किसी से संपर्क किया है और न ही इसके लिए आवेदन ही किया था। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।
 

सोरांव थाना क्षेत्र के इस्माइलपुर तालू के अब्दालपुर निवासी रिजवान पुत्र मो. इरशाद ने सोरांव थाना में तहरीर देकर कहा है कि वह मऊआइमा के वार्ड नंबर 39 से जिला पंचायत सदस्य का निर्दल प्रत्याशी है और पर्चा भी दाखिल कर चुका है। रविवार को उसे समाचार पत्रों के माध्यम से पता चला कि उसे कांग्रेस से जिला पंचायत सदस्य पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया गया है। उसे बदनाम करने के लिए कांग्रेस के एक स्थानीय नेता के द्वारा इस तरह का कार्य किया गया है। 

आरोप लगाया कि जब उसने इस संबंध में संबंधित नेता से पूछताछ की तो उसे जान से मारने की धमकी दी गई। चेतावनी दी गई कि अगर वह कांग्रेस से चुनाव नहीं लड़ा तो उसे जान से मार दिया जाएगा। उसने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पर भी मिलीभगत का आरोप लगाया है।

विस्तार

निर्दलीय प्रत्याशी ने जबरन कांग्रेस का प्रत्याशी बनाए जाने से आहत होकर थाने में तहरीर दी है। उसने कहा कि वह निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में जिला पंचायत सदस्य पद का प्रत्याशी है। उसे जबरन तरीके से कांग्रेस का उम्मीदवार घोषित कर दिया गया है। उसने कांग्रेस प्रत्याशी बनने के लिए न तो किसी से संपर्क किया है और न ही इसके लिए आवेदन ही किया था। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

 

सोरांव थाना क्षेत्र के इस्माइलपुर तालू के अब्दालपुर निवासी रिजवान पुत्र मो. इरशाद ने सोरांव थाना में तहरीर देकर कहा है कि वह मऊआइमा के वार्ड नंबर 39 से जिला पंचायत सदस्य का निर्दल प्रत्याशी है और पर्चा भी दाखिल कर चुका है। रविवार को उसे समाचार पत्रों के माध्यम से पता चला कि उसे कांग्रेस से जिला पंचायत सदस्य पद का प्रत्याशी घोषित कर दिया गया है। उसे बदनाम करने के लिए कांग्रेस के एक स्थानीय नेता के द्वारा इस तरह का कार्य किया गया है। 

आरोप लगाया कि जब उसने इस संबंध में संबंधित नेता से पूछताछ की तो उसे जान से मारने की धमकी दी गई। चेतावनी दी गई कि अगर वह कांग्रेस से चुनाव नहीं लड़ा तो उसे जान से मार दिया जाएगा। उसने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पर भी मिलीभगत का आरोप लगाया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here