सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद विशाल ददलानी ने अपनी गलती मान ली है. फोटो साभार- @vishaldadlani/Instagram

सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद विशाल ददलानी ने अपनी गलती मान ली है. फोटो साभार- @vishaldadlani/Instagram

विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) ने लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) के बड़े ही फेमस देशभक्ति गीत ‘ए मेरे वतन के लोगों’ को लेकर कुछ गलत जानकारी दे डाली, जिसके बाद सोशल मीडिया पर पूर्व विदेश मंत्री दिवंगत सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) के पति स्वराज कौशल (Swaraj Kaushal) ने ट्विटर पर उनकी क्लास लगा दी. हालांकि बाद में विशाल ने अपनी गलती मान ली.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    January 25, 2021, 12:05 PM IST

मुंबई. कहा जाता है कि कम ज्ञान कभी-कभी इंसान को ले डूबता है. ऐसा ही कुछ सिंगर और गीतकार विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) के साथ हुआ. इंडियन आइडल (Indian Idol) के सेट पर शो के दौरान उन्होंने लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) के बड़े ही फेमस देशभक्ति गीत ‘ए मेरे वतन के लोगों’ को लेकर कुछ गलत जानकारी दे डाली, जिसके बाद सोशल मीडिया पर पूर्व विदेश मंत्री दिवंगत सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) के पति स्वराज कौशल (Swaraj Kaushal) ने ट्विटर पर उनकी क्लास लगा दी. सोशल मीडिया (Social Media) पर ट्रोल होने के बाद विशाल ददलानी ने अपनी गलती मानी और माफी भी मांगी.

दरअसल, इंडियन आइडल (Indian Idol) के रविवार के एपिसोड के दौरान एक कंटेस्टेंट ने ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’ गाना गाया. कंटेस्टेंट की परफॉर्मेंस के बाद विशाल कहते हैं, इस गाने को लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) ने 1947 में देश के पहले पीएम जवाहर लाल नेहरू के लिए गाया था. ये गाना आज तक सबके दिलों में बसा है.

विशाल के इस बयान के बाद पूर्व विदेश मंत्री दिवंगत सुषमा स्वराज के पति स्वराज कौशल ने ट्विटर पर ट्वीट किया. उन्होंने लिखा- ‘ये हैं म्यूजिक डायरेक्टर विशाल ददलानी. भारत रत्न और दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित 2 लोगों के बारें खराब जानकरी दी है’.

उन्होंने अगले ट्वीट में लिखा, ‘लता जी का जन्म 1929 को हुआ था. 1947 में वह सिर्फ 17 साल की थीं. लता मंगेशकर जी ने मेरे वतन के लोगों गाना 26 जनवरी 1963 को दिल्ली में गाया था और इसे कवि प्रदीप ने लिखा है. गाना सुनने के बाद जवाहर लाल नेहरू ने कहा था लता बेटी तुम्हारे गीत ने मुझे रुला दिया’.

सोशल मीडिया पर ट्रोल होने के बाद विशाल ने ट्वीट किया. उन्होंने लिखा- ‘ऐ मेरे वतन के लोगों’को लेकर मेरी गलत जानकारी से नाराज लोगों से मैं माफी मांदता हूं, लेकिन इन कट्टर राष्ट्रवादियों ने तब कुछ नहीं कहा जब #Chornab पुलवामा में 40 भारतीय सैनिकों की मौत को टीआरपी जीत के रूप में मना रहा था.’ सोशल मीडिया पर दोनों के ट्वीट्स काफी वायरल हो रहे हैं.








Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here