[ad_1]

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर


कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

अयोध्या के धन्नीपुर गांव में मिली पांच एकड़ जमीन पर मस्जिद निर्माण के लिए ऑनलाइन चंदा लेना अब आसान होगा। इसके लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड की ओर से गठित ट्रस्ट इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ने iicfindia.com पोर्टल तैयार करवाया है। इस पोर्टल के जरिये लोगों को हिंदुस्तान की गंगा-जमुनी तहजीब और सांझी विरासत से रूबरू भी कराया जाएगा।

 

ट्रस्ट के मुख्य लेखाधिकारी इकराम उल्लाह ने बताया कि ट्रस्ट ने दो निजी बैंकों में मस्जिद के लिए और अस्पताल, इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर व कम्यूनिटी किचन के लिए अलग-अलग खाता खोल लिया है। पोर्टल की लॉन्चिंग के बाद बैंक खातों को इससे लिंक कर लोगों को आर्थिक सहयोग के लिए कहा जाएगा। पोर्टल के जरिए मिले धन का ब्यौरा ऑनलाइन रखा जाएगा। 

 
पोर्टल पर रहेगी इंडो इस्लामिक संस्कृति से जुड़ी जानकारी  

ट्रस्ट के सचिव व प्रवक्ता अतहर हुसैन का कहना है कि पोर्टल को इसी महीने में लॉन्च करने की तैयारी है। लॉन्चिंग के बाद यह तय किया जाएगा कि किस बैंक अकाउंट में मस्जिद और किस अकाउंट में अस्पताल, रिसर्च सेंटर व कम्यूनिटी किचन आदि के लिए चंदा लिया जाए। ट्रस्ट से जुड़ी हर जानकारी पोर्टल iicfindia.com पर उपलब्ध रहेगी। इसके अतिरिक्त इंडो इस्लामिक संस्कृति से भी लोग रूबरू हो सकेंगे। इससे संबंधित तस्वीरें और लेख भी अपलोड किए जाएंगे। इसके लिए बुद्धिजीवियों और लेखकों से लेख आमंत्रित किए जाएंगे।

अयोध्या के धन्नीपुर गांव में मिली पांच एकड़ जमीन पर मस्जिद निर्माण के लिए ऑनलाइन चंदा लेना अब आसान होगा। इसके लिए सुन्नी वक्फ बोर्ड की ओर से गठित ट्रस्ट इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउंडेशन ने iicfindia.com पोर्टल तैयार करवाया है। इस पोर्टल के जरिये लोगों को हिंदुस्तान की गंगा-जमुनी तहजीब और सांझी विरासत से रूबरू भी कराया जाएगा।

 

ट्रस्ट के मुख्य लेखाधिकारी इकराम उल्लाह ने बताया कि ट्रस्ट ने दो निजी बैंकों में मस्जिद के लिए और अस्पताल, इंडो इस्लामिक रिसर्च सेंटर व कम्यूनिटी किचन के लिए अलग-अलग खाता खोल लिया है। पोर्टल की लॉन्चिंग के बाद बैंक खातों को इससे लिंक कर लोगों को आर्थिक सहयोग के लिए कहा जाएगा। पोर्टल के जरिए मिले धन का ब्यौरा ऑनलाइन रखा जाएगा। 

 
पोर्टल पर रहेगी इंडो इस्लामिक संस्कृति से जुड़ी जानकारी  
ट्रस्ट के सचिव व प्रवक्ता अतहर हुसैन का कहना है कि पोर्टल को इसी महीने में लॉन्च करने की तैयारी है। लॉन्चिंग के बाद यह तय किया जाएगा कि किस बैंक अकाउंट में मस्जिद और किस अकाउंट में अस्पताल, रिसर्च सेंटर व कम्यूनिटी किचन आदि के लिए चंदा लिया जाए। ट्रस्ट से जुड़ी हर जानकारी पोर्टल iicfindia.com पर उपलब्ध रहेगी। इसके अतिरिक्त इंडो इस्लामिक संस्कृति से भी लोग रूबरू हो सकेंगे। इससे संबंधित तस्वीरें और लेख भी अपलोड किए जाएंगे। इसके लिए बुद्धिजीवियों और लेखकों से लेख आमंत्रित किए जाएंगे।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here