Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ललितपुर8 घंटे पहले

डीआईजी जाेगेंद्र कुमार ने की मामले की जांच।

  • झांसी के थाना प्रेमनगर में मोहल्ला 9 नंबर रेलगंज का मामला
  • आरोपी सिपाही को अस्पताल में भर्ती करवाया गया

उत्तर प्रदेश के ललितपुर पुलिस लाइन में तैनात सिपाही वीरेंद्र यादव की गुंडई सामने आई है। रविवार की दोपहर वह झांसी में था, जहां उसका कमलेश यादव नाम के शख्स से विवाद हुआ। विवाद में सिपाही ने कमलेश पर कई राउंड फायर किए। जवाबी हमले में कमलेश ने भी सिपाही वीरेंद्र पर फायर किया। जानकारी के अनुसार, सिपाही वीरेंद्र के हाथ में गोली लगी जिससे वह घायल हो गया। हालांकि इस संबंध में अभी अफसर कुछ भी बोलने से कतरा रहे हैं। आरोपी को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। सिपाही वीरेंद्र चार दिनों से गैर हाजिर चल रहा था। उसे पुलिस ने हिरासत में लिया है।

24 मार्च से चल रहा था गैर हाजिर

ललितपुर जिले में तैनात सिपाही वीरेंद्र सिंह की ड्यूटी 112 पीआरवी में पारौन चौकी क्षेत्र में थी। लेकिन 3 मार्च को वह गैर हाजिर हो गया, जिसके बाद 6 मार्च को उसे पुलिस लाइन में भेज दिया गया था। 24 मार्च से सिपाही वीरेन्द्र सिंह पुलिस लाइन से गैर हाजिर चल रहा था। रविवार की दोपहर में झांसी जनपद के थाना प्रेमनगर के मोहल्ला 9 नंबर रेलगंज में सिपाही वीरेन्द्र कुमार यादव ने अवैध तमंचे से खुलेआम जमकर फायरिंग की। इस दौरान एक स्कॉर्पियो गाड़ी का शीशा भी टूट गया। घटना की सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने सिपाही वीरेंद्र यादव को धर दबोचा।

DIG ने घटनास्थल का लिया जायजा

मामले की जानकारी पाकर DIG जोगेंद्र कुमार ने भी मौके पर पहुंचकर जानकारी ली। झांसी के SP सिटी विवेक त्रिपाठी ने बताया कि सिपाही वीरेंद्र यादव ने फायरिंग की है। उसे पकड़ लिया गया है। उसके हाथ में चोट लगने के कारण उसे अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने कहा कि सिपाही ने क्यों फायरिंग की? इसकी जांच की जा रही है।

परिजनों ने कहा- डिस्टर्ब चल रहा सिपाही
इधर सिपाही के परिजनों का कहना है कि सिपाही मानसिक रूप से डिस्टर्ब चल रहा है। ललितपुर पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार ने बताया कि सिपाही वीरेन्द्र कुमार 24 मार्च से पुलिस लाइन से गैर हाजिर चल रहा है। सिपाही के निलंबन की कार्रवाई की जा रही है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here