नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली में पिछले दिनों भड़की हिंसा (Delhi Violence) में 42 लोगों ने अपनी जिंदगी को दी. कई माता-पिता ने अपना बेटा खो दिया, किसी ने अपना पिता खो दिया, किसी ने पति तो कोई इस हिंसा में अपने भाई या बहन को खो बैठा. दिल्ली हिंसा में 250 से ज्यादा लोग घायल हो गए और इस आग में कई लोगों के घर और दुकानें स्वाहा हो गई. दिल्ली में नफरत का ऐसा दौर चला कि इंसान ही इंसान का दुश्मन बन बैठा, वो एक-दूजे की जान के दुश्मन बन बैठे, हालांकि कुछ लोग ऐसे भी रहे जिन्होंने अपनी जान पर खेलकर एक पूरे परिवार को बचाया. ऐसे ही मसीहा हैं शिव विहार के निवासी प्रेमकांत बघेल जिनकी बहादुरी की कहानी सुनकर महानतम खिलाड़ियों में से एक मार्टिना नवरातिलोवा भी उन्हें सलाम कर रही हैं.

दिल्ली के प्रेमकांत को नवरातिलोवा ने बताया हीरो
मार्टिना नवरातिलोवा (Martina Navratilova) ने अपने ट्विटर अकाउंट पर प्रेमकांत बघेल का वीडियो शेयर किया है, जिसमें वो दिल्ली के जीटीबी अस्पताल के बेड पर बैठे हुए हैं. उनका 70 फीसदी से ज्यादा शरीर जला हुआ है. नवरातिलोवा ने प्रेमकांत बघेल को एक सच्चा हीरो बताया. प्रेमकांत बघेल की कहानी है ही कुछ ऐसी जो उन्हें हीरो नहीं मसीहा बनाती है. प्रेमकांत बघेल ने सांप्रदायिक सौहार्द का परिचय देते हुए दिल्ली हिंसा में मुस्लिम परिवार के 6 लोगों की जान बचाई.

प्रेमकांत बघेल की कहानी
उत्तर-पूर्वी दिल्ली (Delhi Violence) की सड़कों पर मंगलवार की रात उग्र भीड़ के सिर पर जहां खून सवार था, वहीं 29 साल के प्रेमकांत बघेल ने अपनी जान की परवाह किए बिना अपने मुस्लिम पड़ोसी के जलते हुए घर में घुसकर वहां से परिवार के छह सदस्यों की जान बचाई. शिव विहार के निवासी बघेल का गुरु तेग बहादुर अस्पताल में उपचार चल रहा है. उनके भाई सुमित बघेल ने बताया कि प्रेमकांत में ठीक होने के लक्षण दिखने लगे हैं. सुमित ने कहा, ‘वह (प्रेमकांत) खतरे से बाहर है, लेकिन उनका चेहरा आंशिक रूप से जल गया है. वह तेजाब हमले के पीड़ित की तरह दिख रहे हैं लेकिन उन्हें इसका गर्व है कि उन्होंने कई लोगों की जिंदगी बचाई, जो किसी व्यक्ति के चेहरे से अधिक महत्वपूर्ण है.’

घटना के बारे में सुमित बघेल ने कहा, ‘हमारे पड़ोसी मुस्लिम हैं, अचानक हमने पड़ोसी के घर से आग की लपटें उठती देखीं. हम छत पर यह देखने गए कि क्या हो रहा है. प्रेमकांत तब तक उनके घर पर पहुंच चुका था. वह पांच लोगों को खींचकर सुरक्षित बाहर निकाल चुका था लेकिन एक बुजुर्ग महिला फंसी हुई थी जिसे निकालने में अधिक समय लगा और इसमें प्रेमकांत जल गया.’

सुमित ने कहा, ‘हम प्रेमकांत को बाहर निकालने के लिए दौड़े, लेकिन उसे अस्पताल पहुंचाने के लिए इंतजार करना पड़ा क्योंकि किसी ने हमें लिफ्ट नहीं दी और कोई एम्बुलेंस भी नहीं मिली.’ घटना में प्रेमकांत के दोनों हाथ भी झुलस गए. सोशल मीडिया पर बघेल की हीरो के तौर पर प्रशंसा की जा रही है और उसके उपचार के खर्च के लिए चंदा जुटाने का अभियान चलाने की बात की जा रही है. सोशल मीडिया पर फैला प्रेमकांत का वीडियो मार्टिना नवरातिलोवा (Martina Navratilova) तक पहुंचा और उन्होंने प्रेमकांत को हीरो बताया.

कौन हैं मार्टिना नवरातिलोवा?
मार्टिना नवरातिलोवा (Martina Navratilova) महानतम टेनिस खिलाड़ियों में से एक हैं. वो सिंगल्स में 332 हफ्ते और डबल्स में 237 हफ्तों तक नंबर 1 रहीं. वो दुनिया की एकलौती टेनिस खिलाड़ी हैं जो सिंगल्स और डबल्स दोनों में 200 हफ्तों से ज्यादा नंबर 1 पोजिशन पर रहीं. नवरातिलोवा ने अपने करियर में 18 ग्रैंड स्लैम सिंगल्स, 31 वीमेंस डबल्स खिताब जीते जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है. इसके अलावा उन्होंने 10 मिक्स्ड डबल्स खिताब भी जीते.

Women’s ICC T20 World Cup: टीम इंडिया का विजयी अभियान जारी, श्रीलंका को दी मात





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here